JharkhandRanchi

नेशनल अर्बन डिजिटल मिशन झारखंड में जल्द होगा लागू

  • नेशनल इन्स्टीट्यूट ऑफ अर्बन अफेयर्स की टीम ने किया झारखंड दौरा
  • टीम नें नगर विकास सचिव के समक्ष रखा प्रेजेंटेशन
  • कमांड कंट्रोल एंड कम्यूनिकेशन सेंटर का भी किया अवलोकन
  • रांची नगर निगम में भी टीम की ओर से दिया गया प्रेजेन्टेशन

Ranchi: देशभर के शहरों में ई गवर्नेंस सेवाओं के इंटीग्रेशन को लेकर भारत सरकार द्वारा हाल ही में लांच नेशनल अर्बन डिजिटल मिशन को झारखंड में भी जल्द लागू किया जएगा. इसको लेकर नेशनल इन्स्टीट्यूट ऑफ अर्बन अफेयर्स की चार सदस्यीय टीम ने शुक्रवार  को प्रोजेक्ट भवन सचिवालय में नगर विकास एवं आवास विभाग के सचिव विनय कुमार चौबे से मुलाकात की और इस नई योजना पर बातचीत की तथा पूरी योजना को पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के जरिए दिखाया गया है.

इस मौके पर विभागीय सचिव विनय कुमार चौबे ने इसे एक अच्छी पहल बताते हुए कहा कि राज्य सरकार ने पहले से ही डाटाबेस इंटिग्रेशन की दिशा में काफी प्रयास किए हैं. हम नागरिकों को बुनियादी सुविधा समय पर मुहैया कराने के लिए कृतसंकल्प हैं. इसलिए हमारे यहां अधिकांश नगरीय सेवाएं ऑनलाइन दी जा रही हैं और डेटा सेंटर से इसकी मॉनिटरिंग भी की जा रही है.

advt

उन्होंने कहा कि टैक्स कलेक्शन, साफ सफाई, ट्रेड लाईसेंस और नक्शा स्वीकृति सहित कई सेवाएं हमारे सभी निकायों में ऑनलाईन है. उन्होंने टीम को सुझाव दिया कि नेशनल अर्बन डिजिटल मिशन के डायसबोर्ड में सॉलिड वैस्ट मैनेजमेंट की ट्रैकिंग की भी व्यवस्था हो.

इसे भी पढ़ें – सड़कों पर अवैध रूप से बिल्डिंग मैटेरियल रखने वालों से वसूला पांच हजार रुपए जुर्माना

इस सुझाव को केन्द्रीय टीम ने अपने सिस्टम में जोड़ने का आश्वासन दिया. नेशनल इन्स्टीट्यूट ऑफ अर्बन अफेयर्स के निदेशक हितेश वैद्य ने कहा कि ई-गवर्नेंस के क्षेत्र में झारखंड के सभा नगर निकायों ने बेहतर कार्य किए हैं. हम इस उपलब्धि को राष्ट्रीय स्तर पर सोकेश करेंगे.

उन्होंने कहा कि देश के 4400 से भी ज्यादा नगर निकायों में नगरीय सुविधाओं की तक्नीकी आधारित डिलिवरी, नागरिक सुविधाओं में और भी पारदर्शिता, जिम्मेवारी लाने तथा जीवन स्तर में सकारात्मक बदलाव के लिए लॉंन्च इस मिशन को लागू करने में केन्द्र और राज्य सरकारों का बराबर सहयोग अपेक्षित है.

उन्होंने कहा कि झारखंड इस दिशा में अग्रणी राज्यों की पंक्ति में खड़ा है. इससे पहले टीम नें रांची स्मार्ट सिटी के कमांड कंट्रोल एंड कम्यूनिकेशन सेंटर तथा रांची नगर निगम जाकर अपना प्रेजेंटेशन दिया. नगर निगम में नागरिक सुविधाओं के ऑनलाइन संचालन और ट्रैकिंग की जानकारी ली.

वहीं स्मार्ट सिटी के कमांड कंट्रोल एंड कम्यूनिकेशन सेंटर से संचालित व्यवस्था की जानकारी ली और सेंटर को देखकर काफी खुशी जतायी.

इस अवसर पर  रांची के नगर आयुक्त मुकेश कुमार, सूडा डायरेक्टर अमित कुमार, स्मार्ट सिटी रांची के महाप्रबंधक तक्नीकी राकेश कुमार नंदक्योलियार, जुडको के उप महाप्रबंधक उत्कर्ष मिश्रा सहित कई पदाधिकारी मौजूद रहे. वहीं भारत सरकार की ओर से नेशनल इन्स्टीट्यूट ऑफ अर्बन अफेयर्स के निदेशक हितेश वैद्य,काकुल मिश्रा, अनिरुद्ध गुप्ता और मनीष ठाकुर मौजूद रहे.

इसे भी पढ़ें –  झारखंड के पूर्व मंत्री सरयू राय की बहु निधु देवी दोबरा नहीं बन सकीं मुखिया

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: