West Bengal

राष्ट्रगान ने हमें रखा है एकजुट : ममता

Kolkata: प. बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को एक ट्वीट किया. इसमें उन्होंने लिखा है 1911 में आज ही के दिन 27 दिसम्बर को पहली बार “जन गन मन” गाया गया था. लम्बे अरसे से हमारे राष्ट्रगान ने हमें एकजुट रखा है और देश को प्रेरित भी किया है.

इस राष्ट्रगान की रचना गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर ने की थी. वे हमारे गौरव हैं. बंगाल के बंटवारे के दौरान अपने आंदोलनों के जरिए उन्होंने हमें रास्ता दिखाया था. उल्लेखनीय है कि जब बंगाल का बंटवारा हो रहा था तब गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर ने सीमा पार जा रहे लोगों को राखी बांध कर भाईचारे का परिचय दिया था और उन्हें बंगाल में रोक लिया था.

इसे भी पढ़ें – सोशल मीडिया बनता जा रहा है इंटरनेट का शौचालय: बाबुल सुप्रियो

108 साल पहले पहली बार गाया गया था

भारत का राष्ट्रगान ‘जन गण मन’ पहली बार आज से ठीक 108 साल पहले 27 दिसम्बर, 1911 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के कोलकाता (तब कलकत्ता) अधिवेशन के दौरान बंगाली और हिंदी भाषा में गाया गया था.

राष्ट्रगान लिखने वाले देश के नोबेल पुरस्कार प्राप्त कवि गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर थे. उन्होंने वर्ष 1911 में ही इस गीत की रचना की थी. 24 जनवरी, 1950 को आजाद भारत की संविधान सभा ने इसे अपना राष्ट्रगान घोषित किया था.

इसे भी पढ़ें – हेमंत के शपथ ग्रहण समारोह में प्रणब मुखर्जी, राहुल गांधी समेत कई दिग्गज करेंगे शिरकत

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: