Jharkhandlok sabha election 2019Ranchi

भाजपा के प्रदेश कार्यालय से नहीं बिक रहे मोदी मुखौटा और नमो टी शर्ट

विज्ञापन

Deepak

Ranchi:  लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा के प्रदेश कार्यालय से चुनाव सामग्रियां नहीं बेची जा रही हैं. प्रदेश कार्यालय के प्रचार सामग्री काउंटर में न तो मोदी मुखौटा है और न ही नमो टी शर्ट.

काउंटर प्रभारी प्रद्युम्न का कहना है कि इस बार कोई चहल-पहल नहीं है. पार्टी के प्रत्याशियों के यहां ही प्रचार सामग्रियां केंद्रीयकृत तरीके से भेजी जा रही हैं और उसका वितरण भी वहीं से हो रहा है.

नतीजतन भाजपा कार्यकर्ताओं और समर्थकों के पास मोदी मुखौटा, भाजपा की टोपी और नमो टी शर्ट अब तक नहीं दिख रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः हेमंत करकरे पर प्रज्ञा ठाकुर के बयान को कुतर्क से सही ठहराना भयावह

2014 की तुलना में इस बार मांग कम

इस बार इन सामग्रियों की मांग भी कम हुई है. भाजपा के प्रत्याशी अपने नामांकन के समय और चुनावी बैठकों तथा सभा में इन सामग्रियों का वितरण अपने स्तर से कर रहे हैं.

श्री कुमार का कहना है कि रांची लोकसभा सीट के लिए नामांकन के दौरान पार्टी के घोषित उम्मीदवार ने अपने स्तर से समर्थकों के बीच 16 अप्रैल को लाखों रुपये की प्रचार सामग्रियां वितरित की थी.

रांची संसदीय सीट के सभी छह विधानसभा सदस्यों के यहां एक-एक टेंपो प्रचार सामग्रियां भेजी गयी हैं. इसमें पंफ्लैट, पार्टी का झंडा, उम्मीदवार का पोस्टर, टोपी और अन्य चीजें शामिल हैं.

इस बार पार्टी दफ्तर के बाहर इन सामग्रियों की बिक्री भी नहीं हो रही है. इसलिए भी आम मतदाताओं और लोगों तक भाजपा समर्थित उम्मीदवारों का झंडा, बैनर, पोस्टर तक नहीं पहुंच पा रहा है और न ही वे इन चीजों को खरीद पा रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः एसपीओ बुधु दास की हत्या करने वाले शूटर की हुई पहचान, पुलिस जल्द कर सकती है गिरफ्तार

रोड शो में समर्थकों के बीच सामग्रियों के वितरण की तैयारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रांची में 23 अप्रैल को आहूत रोड शो के दौरान समर्थकों और कार्यकर्ताओं के बीच मुखौटा और झंडा वितरित करने की व्यापक तैयारी है.

महानगर भाजपा की तरफ से रांची के सभी मंडल अध्यक्षों को एयरपोर्ट से लेकर बिरसा चौक तक भारी भीड़ जुटाने की जवाबदेही सौंपी गयी है.

इसमें शामिल लोगों को पार्टी का झंडा, बैच, कैप भी देने को कहा गया है. सभी समर्थकों को रोड शो के तीन घंटे पहले बुलाया गया है. ताकि इन सामग्रियों का वितरण ऑन स्पॉट किया जा सके.

इसे भी पढ़ेंः श्रीलंका ने माना – धमाकों के पीछे नेशनल तौहीद जमात संगठन का हाथ, रात आठ बजे से कर्फ्यू

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: