West Bengal

नारद स्टिंग मामला: मिर्जा के बाद अब बीजेपी के शोभन चटर्जी की गिरफ्तारी की अटकलें

Kolkata: नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में अब कोलकाता के पूर्व मेयर और भारतीय जनता पार्टी के नेता शोभन चटर्जी की गिरफ्तारी की अटकलें तेज हो गयी हैं.

2014 में जब स्टिंग ऑपरेशन को अंजाम दिया गया था तब शोभन चटर्जी तृणमूल कांग्रेस में थे और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सबसे करीबी नेताओं में शामिल थे.

स्टिंग आपरेशन में उन्हें नगर निगम कार्यालय में पांच लाख रुपये घूस लेकर तौलिए में लपेट कर ले जाते हुए देखा गया था.

तब उन्होंने फिल्मी स्टाइल में मुंह में सिगरेट दबा कर रखा था. अब वह भारतीय जनता पार्टी में हैं और उनकी गिरफ्तारी की अटकलें तेज होने के पीछे भी वजह बहुत खास है.

इसे भी पढ़ें – #BJP विधायक ढुल्लू महतो सहित पांच को डेढ़ साल की सजा, बरोरा थानेदार की वर्दी फाड़ने का मामला

दरअसल इस मामले में पिछले सप्ताह गुरुवार को सीबीआइ ने आइपीएस अधिकारी एसएमएच मिर्जा को गिरफ्तार किया है.

2014 में जब स्टिंग ऑपरेशन किया गया था तब एसएमएच मिर्जा बर्दवान के तत्कालीन एसपी थे और उन्होंने एसपी दफ्तर में ही बैठ कर स्टिंग ऑपरेशन करनेवाले मैथ्यू सैमुअल से रुपये लिये थे.

सीबीआई का कहना है कि मिर्जा ने सरकारी दफ्तर का इस्तेमाल घूस लेने के लिए किया था इसलिए उन्हें गिरफ्तार किया गया है.

कोलकाता नगर निगम मुख्यालय में लिये थे रुपये

अब शोभन चटर्जी ने भी स्टिंग ऑपरेशन के रुपये कोलकाता नगर निगम मुख्यालय में ही बैठ कर लिये थे इसलिए उनकी भी गिरफ्तारी की अटकलें तेज हो गयी हैं.

खास बात यह है कि नारद स्टिंग ऑपरेशन को अंजाम देने वाले पत्रकार मैथ्यू सैमुअल गत 7 अक्टूबर को कोलकाता आये थे.

इसे भी पढ़ें – #BJP में शामिल होने वाले हत्या के आरोपी शशिभूषण मेहता हैं 10 मामलों में आरोपी

उन्होंने कहा था कि शोभन चटर्जी की गिरफ्तारी सबसे पहले होनी चाहिए क्योंकि उन्होंने भी कोलकाता नगर निगम में बैठ कर रुपये लिये थे.

वैसे मिर्जा की गिरफ्तारी के बाद सीबीआइ ने मुकुल रॉय के खिलाफ तो कार्रवाई तेज कर दी है लेकिन शोभन के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने से सवाल खड़े हो रहे हैं. मिर्जा फिलहाल सीबीआइ की हिरासत में हैं. 15 अक्टूबर तक उनसे पूछताछ की जानी है.

नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में हाजिर होने कोलकाता पहुंचे मैथ्यू

एक फर्जी कंपनी से घूस लेकर उसके अवैध कारोबार को फैलाने में मदद के नाम घूस लेते तृणमूल नेताओं मंत्रियों और आइपीएस अधिकारी पर स्टिंग ऑपरेशन करनेवाले नारद न्यूज पोर्टल के सीईओ मैथ्यू सैमुअल बुधवार को एक बार फिर सीबीआइ के समक्ष पेश होने कोलकाता पहुंचे.

यहां के निजाम पैलेस स्थित जांच एजेंसी के क्षेत्रीय कार्यालय में वह पहुंचे, जहां सीबीआइ के अधिकारियों ने उनसे पूछताछ करने की शुरुआत की.

उन्होंने कहा कि वह इस मामले की जांच में सहयोग करने के लिए आये हैं और आगे भी आते रहेंगे. उन्होंने यह भी बताया कि सीबीआइ ने उनसे पासवर्ड मांगा था, लेकिन उन्होंने देने से इंकार कर दिया था.

उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा है कि पासवर्ड उनका व्यक्तिगत है और किसी को कुछ नहीं देंगे. दरअसल स्टिंग ऑपरेशन मामले में सीबीआइ ने पिछले सप्ताह आइपीएस अधिकारी एसएमएच मिर्जा को गिरफ्तार किया है.

उनके आमने-सामने बैठा कर सैमुअल से पूछताछ होनी है. इसके पहले 7 अक्टूबर को भी वह कोलकाता आये थे जहां सीबीआइ की टीम ने उनसे पूछताछ की थी.

इसे भी पढ़ें – #SBI का ग्राहकों को तोहफाः ब्याज दरों में कटौती, सस्ते होंगे लोन

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: