न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नामुदाग पर्यटन स्थल का हो रहा कायाकल्प, 10 को केंद्रीय राज्यमंत्री करेंगे शुभारंभ

पर्यावरण मैत्री के रूप में होगी पहचान

366

Lohardaga: भूमि के किसी एक हिस्से की सुस्पष्ट विशेषताएं हैं, जिनमें इसके प्राकृतिक स्वरूपों के भौतिक तत्त्व, जल निकाय जैसे कि नदियाँ,झीलें समुद्र, प्राकृतिक रूप से उगने वाली वनस्पतियों सहित धरती पर रहने वाले जीव-जंतु,मिट्टी से बनी उपयोगी मानव निर्मित वस्तुओं सहित भवन एवं संरचनाएं और अस्थायी तत्त्व जैसे कि विद्युत व्यवस्था एवं मौसम संबंधी परिस्थितियाँ शामिल हैं. मानवीय संस्कृति की छवि, जो बनने में सहस्राब्दियाँ लग जाती हैं, दोनों मिलकर दृश्य किसी भी स्थल के लोग तथा वह स्थल दोनों की स्थानीय तथा राष्ट्रीय पहचान को प्रतिबिंबित करते हैं. प्राकृतिक दृश्य, इनकी विशेषता और गुणवत्ता, किसी क्षेत्र की आत्म छवि और, उस स्थान की भावनात्मक अनुभूतियाँ, जो इसे दूसरे क्षेत्रों से अलग करती है.


ऐसे ही स्थानों में एक है लोहरदगा जिले के 27 नंबर पुल जो नामुदाग पर्यटन के नाम से जाना जाता है. मगर वन विभाग की पहल पर इको-टूरिज्म व पर्यावरण मैत्री के रूप में विकसित किया जा रहा है. झारक्रॉफ्ट के बम्बू क्राफ्ट के बेहतर कारीगरों के द्वारा सजाया और संवारा जा रहा है. इस स्थान को ज्यादा आकर्षित बनाया जा रहा है, ताकि देश विदेश के लोग इस स्थान पर आकर मनमोहक दृश्य का आनंद ले सकें. 10 जुलाई नामुदाग पर्यटन स्थल के केंद्रीय राज्यमंत्री के द्वारा विधिवत शुभारंभ किया जाएगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: