Sports

खेलरत्न के लिए वीमेंस हॉकी कैप्टन रानी का नाम, वंदना, मोनिक, हरमनप्रीत अर्जुन पुरस्कार की दौड़ में

विज्ञापन

New Delhi: हॉकी इंडिया ने भारतीय महिला टीम की कप्तान रानी रामपाल के नाम की अनुशंसा खेलरत्न पुरस्कार के लिये की है. साथ ही वंदना कटारिया, मोनिका और हरमनप्रीत सिंह के नाम अर्जुन पुरस्कार के लिये भेजे गए हैं.

मेजर ध्यानचंद लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार के लिये भारत के पूर्व खिलाड़ी आर पी सिंह और तुषार खांडकर के नाम भेजे गए हैं. कोच बी जे करियाप्पा और रमेश पठानिया के नाम द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिये भेजे हैं.

इसे भी पढ़ेंःगोपालगंज हत्याकांड को लेकर तेजस्वी का नीतीश सरकार से सवाल, पूछा- कब गिरफ्तार होंगे JDU विधायक पप्पू पांडेय

देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेलरत्न पुरस्कार के लिये एक जनवरी 2016 से 31 दिसंबर 2019 के बीच का प्रदर्शन आधार रहेगा. इस दौरान रानी की कप्तानी में भारत ने 2017 में महिला एशिया कप जीता और 2018 में एशियाई खेलों में रजत पदक हासिल किया. उसने एफआइएच ओलंपिक क्वालीफायर 2019 में भारत के लिये विजयी गोल करके तोक्यो ओलंपिक क्वालीफिकेशन दिलाया था. रानी की कप्तानी में भारत एफआइएच रैंकिंग में नौवें स्थान पर पहुंचा.

विश्व खेल एथलीट का पुरस्कार पाने वाली पहली भारतीय रानी को 2016 में अर्जुन और 2020 में पद्मश्री मिल चुका है.

अर्जुन पुरस्कार की दौड़ में वंदना, मोनिका

भारत के लिये 200 से अधिक अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुकी वंदना और 150 से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय मैचों में हिस्सा ले चुकी मोनिका के नाम अर्जुन पुरस्कार के लिये भेजे गए हैं. दोनों हिरोशिमा में एफआइएच सीरिज फाइनल्स ,तोक्यो 2020 ओलंपिक टेस्ट टूर्नामेंट और भुवनेश्वर में ओलंपिक क्वालीफायर में भारत की जीत की सूत्रधार थी.

इसे भी पढ़ेंःबिना आधार कार्ड नहीं कटेंगे बाल, इन नियमों का भी करना होगा पालन

भारतीय पुरूष टीम के ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत सिंह का नाम भी अर्जुन पुरस्कार के लिये भेजा गया है. उन्होंने भुवनेश्वर में एफआईएच सीरिज फाइनल्स में शानदार प्रदर्शन किया था. ओलंपिक टेस्ट टूर्नामेंट 2020 में उन्होंने मनप्रीत सिंह की जगह कप्तानी की थी. पिछले साल रूस में ओलंपिक क्वालीफायर जीतने वाली भारतीय टीम का भी वह हिस्सा थे.

पूर्व खिलाड़ी आर पी सिंह और खांडकर के हॉकी को योगदान के लिये उनका नाम मेजर ध्यानचंद लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार के लिये भेजा गया है. वहीं करियप्पा का नाम द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिये भेजा गया जो 2019 में जोहोर कप में रजत पदक जीतने वाली भारत की जूनियर पुरूष टीम के कोच थे.

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने कहा,‘राजीव गांधी खेलरत्न पुरस्कार पाने वाले सरदार सिंह पिछले हॉकी खिलाड़ी थे. रानी ने महिला हॉकी में नयी बुलंदियों को छुआ है और वह इस सम्मान की हकदार है.’ बता दें कि खेल मंत्रालय की एक समिति विजेताओं का चयन करेगी. और पुरस्कार 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस पर दिये जायेंगे.

इसे भी पढ़ेंःदिल्ली LG अनिल बैजल के ऑफिस में कोरोना का कहर, 13 कर्मचारी संक्रमित

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close