न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मुजफ्फरपुर कांड : नीतीश ने कहा, कभी समझौता नहीं किया, छोड़ेंगे नहीं,  गाली देनी है तो दीजिए

मुजफ्फरपुर जिला स्थित बालिका गृह में 34 लडकियों के यौन शोषण मामले में नीतीश कुमार ने  कहा कि सरकार किसी को छोड़नेवाली नहीं है.

230

Patna : मुजफ्फरपुर जिला स्थित बालिका गृह में 34 लडकियों के यौन शोषण मामले में नीतीश कुमार ने  कहा कि सरकार किसी को छोड़नेवाली नहीं है. दोषी के खिलाफ कार्रवाई होगी. सीएम नीतीश एक कार्यक्रम में बोल रहे थे. कहा कि हम किसी को बख्शने वाले नहीं है. आजतक कोई समझौता नहीं किया है. बाकी हमीं को गाली देनी है तो दीजिए. कैसे-कैसे लोगों से गाली दिलवा रहे हैं. उन्होंने कहा कि जरा पोजिटिव फीड पर भी आप लोग कृपा करें. एकाद निगेटिव चीज हो गयी, उसी को लेकर चल रहे हैं. जो गड़बड़ करेगा वो अंदर जायेगा. उसको बचाने वाला भी नहीं बचेगा. वो भी अंदर जायेगा.

इसे भी पढ़ें- पांच साल में झारखंड से गायब हुए 2789 बच्चे, लगभग आधे का नहीं मिल सका सुराग

मुजफ्फरपुर, मुंगेर, अररिया, मधुबनी, भागलपुर, भोजपुर की बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक  निलंबित

खबरों  के अनुसार लडकियों के साथ यौन शोषण मामले की सीबीआई जांच के बीच राज्य के समाज कल्याण विभाग ने मुजफ्फरपुर बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशक सहित मुंगेर, अररिया, मधुबनी, भागलपुर और भोजपुर जिलों की बाल संरक्षण इकाई के सहायक निदेशकों को भी निलंबित कर दिया है. समाज कल्याण विभाग द्वारा जारी अलग-अलग अधिसूचनाओं के अनुसार निलंबन की कारवाई मुजफ्फरपुर के सहायक निदेशक दिवेश कुमार शर्मा, मुंगेर  की सीमा कुमारी, अररिया के घनश्याम रविदास, मधुबनी के कुमार सत्यकाम, भागलपुर  के गीतांजलि प्रसाद और भोजपुर इकाई के सहायक निदेशक आलोक रंजन पर की गयी है.

इसे भी पढ़ें-  असम का टाकमारी गांव घुसपैठियों के लिए स्वर्ग, मवेशी तस्करों को ब्रह्मपुत्र नदी का सहारा

टीआईएसएस की रिपोर्ट में बच्चियों के साथ मारपीट, अभद्र व्यवहार की बात कही गयी

बता दें कि समाज कल्याण विभाग के संयुक्त निदेशक द्वारा हस्ताक्षरित उक्त निलंबन अधिसूचनाओं में कहा गया है कि मुंबई स्थित टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज (टीआईएसएस) की कोशिश टीम की सोशल ऑडिट रिपोर्ट में इन अधिकारियों के अंतर्गत संचालित संस्थानों में वहां रहने वाली बच्चियों के साथ मारपीट, अभद्र व्यवहार, तथा अन्य अवांछित कार्य किये जाने की स्थिति के बारे में जानकारी होने के बावजूद उनके द्वारा आवश्यक कानूनी कार्रवाई नहीं की गई. अपने निरीक्षण रिपोर्ट में भी उन्होंने उक्त संस्थानों की वस्तुस्थिति से उच्च अधिकारियों को अवगत नहीं कराया गया.

मुजफ्फरपुर मामले में विपक्षी दल समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा की संलिप्तता का आरोप लगाते हुए उऩ्हें गिरफ्तार करने तथा मंजू वर्मा के मंत्री पद से इस्तीफा लिये जाने की लगातार मांग कर रहे हैं.

palamu_12

इसे भी पढ़ें- “सिंह मेंशन को टेंशन” देने में पहली बार उछला ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ का नाम

  जंतर-मंतर प्रदर्शन में शामिल हुए राहुल गांधी

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी यौन शोषण मामले में भाजपा और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर लगातार हमलावर हैं.  जंतर-मंतर प्रदर्शन में शामिल हुए गांधी ने कहा, आज अत्यंत दु:ख की घड़ी है. आज हम सिर्फ उन 40 बेटियों ही नहीं बल्कि देश की प्रत्येक महिला की सुरक्षा के लिए आये हैं. उन्होंने कहा कि देश के अंदर एसा माहौल बना दिया है कि हर वर्ग पर हमला हो रहा है. मीडिया के साथियों को भी धमकाया जा रहा है. उन्हें काम नहीं करने दिया जा रहा है. कहा कि कांग्रेस उनके साथ है.

इसे भी पढ़ें- ‘सरकार की कारगुजारियां उजागार करने वाले को देशद्रोही का तमगा देना बंद करें रघुवर सरकार’

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: