न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शहीद मैदान में युवक-युवती की हत्या का नहीं खुल पाया राज, SIT का गठन

774

Ranchi : जगन्नाथपुर शहीद मैदान में हुई युवक और युवती की हत्या के मामले में पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं. जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के ओबरिया के रहने वाले संदीप कुमार दुबे का शव 23 मार्च को शहीद मैदान के पास नाले से बरामद हुआ था.

वहीं 16 अप्रैल को उसी नाले से अर्धनग्न अवस्था में एक युवती का शव बरामद हुआ था. एक ही जगह से मिले युवक और युवती के शव के पीछे क्या वजह है अभी तक इस मामले में पुलिस कुछ भी खुलासा नहीं कर पायी है.

इसे भी पढ़ेंःअरुणाचल प्रदेश-नेपाल में भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 6.1 रही तीव्रता

मामले ने लिया नया मोड़

जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के शहीद मैदान के पास से पहले संदीप का शव मिलना और फिर उसके कुछ दिनों बाद युवती का शव भी वही जगह से मिलना मामले को नया मोड़ देता है. अभी तो पुलिस संदीप के हत्या का प्रमाण भी नहीं जुटा पायी थी कि यह गुत्थी और उलझ गयी.

वहीं युवती का शव अर्धनग्न अवस्था में मिला था. जो कि चर्चा का विषय बना हुआ है. और जब पुलिस ने संदीप का शव नाले से बरामद किया था तो उसके हाथ साड़ी से बांधे हुए थे.

इसे भी पढ़ेंभाजपा नेताओं के नफरत भरे बोल पर आखिर प्रधानमंत्री कब बोलेंगे: चिदंबरम

एसआईटी का गठन

दोनों की हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए एसएसपी अनीश गुप्ता ने एसआईटी (स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम) का गठन किया है. एसआईटी का नेतृत्व हटिया डीएसपी प्रभात रंजन बरवार करेंगे. इसमें जगन्नाथपुर थानेदार अनुप कर्मकार, धुर्वा इंस्पेक्टर राजीव कुमार, तुपुदाना ओपी प्रभारी तारीक अनवर को शामिल किया गया है.

दोनों हत्याओं का एक दूसरे से लिंक को लेकर भी हो रही जांच

पुलिस दोनों हत्याओं को एक दूसरे से लिंक करके भी जांच कर रही है. हालांकि युवती की अब तक पहचान नहीं हो पाई है. युवती के शरीर के हिस्से को डीएनए टेस्ट के लिए एफएसएल भेजा गया है.

युवती के शव को पुलिस ने रिम्स के शीत गृह में रखवाया है. जिसके बाद जगन्नाथपुर क्षेत्र के कुछ लोग उसकी पहचान के लिए रिम्स गए थे. हांलाकि किसी ने भी युवती की पहचान नहीं की.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: