BiharCrime News

मधुबनी में ट्रक ड्राइवर की हत्या, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम

Madhubani : जिले में अपराधियों के हौसले बुलंदी की शिखर को चूम रहा है. हत्या, अपहरण, बलात्कार जैसी घटना तो आम बात हो गई है. जिसका सबसे बड़ा श्रेय मधुबनी के प्रशासन को जाता है. श्रेय शब्द का प्रयोग इसलिए किया गया है की जैसे इन सभी वारदातों से मधुबनी के प्रशासन को जैसे फर्क ही नही पड़ रहा हो. पिछले एक-दो सालों से मधुबनी में क्राइम का ग्राफ जिस तरह से बढ़ा है, इससे लगता है की आम जन का जीना दुश्वार हो गया है.

इसे भी पढ़ें : जमुई में नक्सली साजिश नाकाम,  100 किलोग्राम विस्फोटक जंगल से बरामद

ताजा मामला जिले के हरलाखी प्रखंड के है, जहाँ बिहार स्टेट फूड कॉरपोरेशन, हरलाखी में एक ड्राइवर की बेरहमी से हत्या कर शव को सड़क किनारे फेंक दिया गया. जिसकी जानकारी परिजनों को मिली, और शव को घर ले आये. आज सुबह से ही मृतक के परिजन सहित सैकड़ों लोग मृत शरीर के साथ आज नेशनल हाईवे संख्या -527बी (पुराना एनएच-105) को ट्रक लगाकर जाम कर दिया गया.

Catalyst IAS
ram janam hospital

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस ड्राइवर का घर मधुबनी जिला के ही जयनगर प्रखंड के छपकी टोल बताया जा रहा है, जो जयनगर एफसीआई से अनाज लेकर हरलाखी बीएसएफसी को पहुंचाया करता था. मृतक का नाम राकेश दास (35) है. मृतक की एक छोटी बेटी भी है.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

इस बाबत जब हमारे संवाददाता ने मृतक के परिजनों से बात की तो उनकी मां का स्पष्ट कहना है, कि या तो सरकार अविलंब मुआवजा और अन्य सरकारी सहायता दे नही तो जैसे मेरे बेटे को मारा गया है, वैसे ही उसके हत्यारों को भी मारा जाए. वहीं, मृतक के अन्य दूसरे परिजनों का कहना है कि सरकार फौरी तौर पर सहायता प्रदान करें, और उच्च अधिकारी आकर हमसे इस बाबत बात करें. साथ ही जल्द से जल्द अपराधियों की गिरफ्तारी की जाए.

बता दें कि मौके पर जयनगर थाना के कर्मी और जयनगर के निवर्तमान प्रखंड प्रमुख सचिन सिंह जाकर उनसे बात की, पर मृतक के परिजन टस से मस नही हुए, और अपनी मांग पर अड़े रहे. समाचार लिखे जाने तक एनएच जाम ही है.

इसे भी पढ़ें : भागलपुर में पान मसाला कारोबारी की गोली मारकर हत्या

Related Articles

Back to top button