Crime NewsNational

महाराष्ट्र के नांदेड़ में लिंगायत समाज के साधु की हत्या, आरोपी फरार

Mumbai: राज्य के नांदेड़ जिले में एक लिंगायत समाज के साधु की हत्या कर दी गयी है. घटना शनिवार रात 12 बजे के बाद की है. जिस साधु की हत्या की गयी है उसकी पहचान पशुपति मराहाज के रूप में की गयी है. वहीं जिस व्यक्ति पर हत्या का आरोप लगा है वह भी लिंगायत समाज का ही बताया जा रहा है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है.

इसे भी पढ़ें- देश में कोरोना के नये मरीज मिलने का टूटा रिकॉर्ड, पिछले 24 घंटे में 6,767 नये केस, 147 की मौत

पशुराम महाराज के अलावा एक और की हत्या

Catalyst IAS
ram janam hospital

साधु पशुराम महाराज के अलावा एक और व्यक्ति की हत्या का मामला सामने आये है. इस शख्स का नाम भगवान राम शिंदे बताया जा रहा है. वहीं राम शिंदे की पहचान हत्या के आरोपी के साथी के रूप में की गयी है. गौरतलब है कि साईनाथ नाम के व्यक्ति ने इस पूरी घटना को अंजाम दिया है. फिलहाल वह फरार है और पुलिस उसकी जांच में जुटी है.

The Royal’s
Sanjeevani

बाताया जा रहा है कि भगवान राम शिंदे का शव रविवार सुबह जिला परिषद स्कूल के पास बारामद किया गया. भगवान राम शिंदे भी लिंगायत समाज से ही है. फिलहाल पुलिस ने उसके शव को कब्जे में ले लिया है और जांच कर रही है. पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि राम शिंदे की हत्या आरोपी साईनाथ ने की है या फिर किसी और ने. साथ ही यह भी पता लगाया जा रहा है कि पशुपति महाराज की हत्या के बाद उसकी हत्या की गयी है पहले ही कर दी गयी थी.

इसे भी पढ़ें- NewsWing Impact : मुसहर परिवारों की बदहाल स्थिति पर मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान, प्रशासन ने दिया अनाज

क्या है पूरी घटना

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि शनिवार देर रात आरोपी साईनाथ दरवाजा खोलकर आश्रम में घुसा. क्योंकि दरवाजा तोड़े जाने के कोई निशान नहीं पाये गये हैं. आश्रम में घुसने के बाद उसने पशुपति महाराज की हत्या की और फिर उसके शव को कार में रखकर आश्रम से भागने लगा.

लेकिन जैसे ही वह कार से गेट के पास पहुंचा उसकी कार गेट में फंस गयी. इसी बीच आश्रम की छत पर सो रहे दो सेवादार जाग गये. यह देख आरोपी मौके से भागने लगा. सेवादार भी उसके पीछे भागे लेकिन वह भागने में सफल रहा.

इसे भी पढ़ें- प्रवासियों के आने से गोवा में बढ़ रही कोरोना संक्रमितों की संख्या, 66 तक पहुंचा आकड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button