JharkhandRanchi

जिस नाले में गिर कर बच्ची फलक की हुई थी मौत, 44 लाख में निगम करायेगा उसका निर्माण

Ranchi : रांची नगर निगम के हिंदपीढ़ी स्थित नाला रोड के जिस नाले में बच्ची फलक की गिरने से मौत हुई थी, उस नाले के निर्माण के लिए निगम ने एक टेंडर निकाला है. यह नाला वार्ड 2 में पड़ता है. इस नाले एवं सड़क की मरम्मत रांची नगर निगम 44 लाख की लागत से करायेगा. नाला व सड़क निर्माण कार्य के लिए गुरुवार को रांची नगर निगम ने टेंडर निकाला. टेंडर निकालने के साथ निगम ने कहा कि 120 दिनों के अंदर यहां सड़क व नाली का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जायेगा. साथ ही नये सिरे से किये जा रहे कार्य के तहत इस बार इस नाले को पूरी तरह से स्लैब से ढंक दिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – जमशेदपुर : आदित्यपुर में 25 कंपनियों में लटका ताला, 30 हजार लोग हुए बेरोजगार

नाले को भी पूरी तरह से कवर करेगा निगम

वहीं निगम द्वारा निकाले गये टेंडर के तहत मारवाड़ी कॉलेज से लेकर रोटरी पार्क तक के बड़े नाले को भी नगर निगम पूरी तरह से स्लैब से ढंकेगा. वहीं काली मंदिर के पीछे से बगलामुखी मंदिर तक आनेवाले नाले को भी निगम पूरी तरह से स्लैब से कवर करेगा.

advt

इसे भी पढ़ें – JSCA में अक्टूबर 2017 के बाद हुआ सिर्फ एक इंटरनेशनल मैच, सुनाई देती रहीं शादी-पार्टियों की गूंज

नाले में गिरने से हुई थी फलक की मौत

25 जुलाई को नाला रोड में रहनेवाली फलक अख्तर की मौत खुले नाले में गिरने से हो गयी थी. बारिश के कारण नाले में पानी का बहाव इतना तेज था कि बच्ची छह किलोमीटर तक बहती हुई चुटिया श्मशान घाट के पास पहुंच गयी. आसपास के युवकों ने तत्काल नाले में छलांग लगा दी, लेकिन सिर्फ बैग ही मिला. तेज बहाव के कारण बच्ची बहते हुए आगे निकल गयी थी. बच्ची को ढूंढ़ने के लिए 100 से अधिक लोग नाले में उतरे. करीब साढ़े चार घंटे तक ढूंढ़ते हुए चुटिया श्मशान घाट के पास पहुंच गये, जहां बच्ची नदी किनारे पड़ी मिली. हालांकि सिर में चोटे आने से उसकी मौत हो गयी थी.

इसे भी पढ़ें – प्लास्टिक पार्कः राज्य सरकार ने बनायी थी 120 करोड़ खर्च करने की योजना, केंद्र की कटौती के बाद अब 67.33 करोड़ में ही करनी होगी पूरी

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button