DeogharJharkhand

नगर आयुक्त ने की पीएम आवास सहित अन्य कार्यों की समीक्षा

  • अपूर्ण आवासों को तीन माह के अंदर पूरा करने का निर्देश
  • राजस्व वसूली में भी नहीं हुई लक्ष्य की प्राप्ति, कोरोना बना कारण

Deoghar : गुरुवार को देवघर नगर निगम (डीएमसी) के नगर आयुक्त सह प्रशासक शैलेंद्र कुमार लाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी), राजस्व एवं डेयूएलएम कार्य की समीक्षा की. समीक्षा के क्रम में जून का लक्ष्य वेपकोस का 350 एवं पारामोने का 650 आवास पूर्ण करने का है. साथ ही दोनों कंपनियों को मई माह तक क्रमशः 500 व 700 आवासों को पूर्ण करने का लक्ष्य दिया गया था.

इसे भी पढ़ें : पलामू: पकड़ी गयी एक टैंकर स्प्रिट को लेकर अनजान है उत्पाद विभाग

advt

जिसमें संतोषजनक प्रगति नहीं होने व लक्ष्य को पूर्ण नहीं किये जाने पर नगर आयुक्त ने नाराजगी प्रगट करते हुए टीओआर के अनुरूप मानव बल उपलब्ध कराते हुए अपूर्ण आवासों को तीन माह के अंदर पूर्ण करने का निर्देश दिया. राजस्व शाखा विभाग की समीक्षा के दौरान पाया गया कि 8 लाख प्रतिदिन के हिसाब से लक्ष्य दिया गया था परंतु इनके द्वारा 5 लाख प्रतिदिन के हिसाब से वसूली की गयी.

जिसमें उनके टीम लीडर के द्वारा बताया गया कि लॉकडाउन की वजह से दुकानें बंद होने के कारण राजस्व नहीं बढ़ पा रहा है. लॉकडाउन खत्म होने के बाद दुकानों के खुलने के बाद ट्रेड लाइसेंस की भी वसूली शुरू कर दी जायेगी. जिससे लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकेगा. नगर आयुक्त ने संतोषजनक प्रदर्शन करने पर अधिकारियों व कर्मियों को कड़ी फटकार लगायी.

समीक्षा बैठक में नगर प्रबंधक अनुज राकेश किस्पोट्टा, उमाकांत कुमार, नवनीत राज, मृणाल कुमार, सिटी मैनेजर हिमांशु शेखर, सुमन कुमार, सहित कार्यालय में उपस्थित थे. जबकि सभी सुपरवाइज़र व सर्वेयर गूगल मीट से जुड़े थे.

इसे भी पढ़ें :हजारीबाग : 14 पेटी अवैध विदेशी शराब के साथ टाटा सफारी जब्त, एक गिरफ्तार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: