न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झिरी डम्पिंग यार्ड में सफाई व्यवस्था दुरुस्त न देख बिफरे नगर आयुक्त, अविलंब कार्य योजना बनाने का दिया निर्देश

35
  • झिरी डम्पिंग यार्ड और कांके स्लॉटर हाउस के निरीक्षण को पहुंचे नगर आयुक्त
  • कंपनी एमएसडब्ल्यू को हटाने के निर्णय के बाद वार्डों में अपने संसाधन से कार्य कर रहा है रांची नगर निगम

Ranchi : कंपनी रांची एस्सेल इन्फ्रा (आरएमएसडब्ल्यू) को हटाने के निर्णय के बाद रांची नगर निगम की टीम अब सभी वार्डों में अपने स्तर पर बेहतर सफाई कार्य करने को प्रयासरत है. निगम ने अपने संसाधनों से इन वार्डों में सफाई कार्य करना शुरू कर दिया है. नगर आयुक्त के निर्देश पर निगम की टीम कई वार्डों में सफाई कार्य निरीक्षण के दौरे पर है. सूत्रों के मुताबिक, सोमवार रात को अपर नगर आयुक्त की टीम ने कई वार्डों में सफाई कार्य का जायजा लिया था. मंगलवार की सुबह नगर आयुक्त मनोज कुमार निगम की टीम संग झिरी स्थित कचरा डम्पिंग यार्ड और स्लॉटर हाउस के निरीक्षण को पहुंचे. झिरी यार्ड में नगर आयुक्त को कंपनी का कोई भी प्रतिनिधि या कर्मी उपस्थित नहीं मिला. इसके अलावा यहां कचरा तौलनेवाली मशीन और दोनो पोकलेन मशीन बिना कार्य करते हुए खड़ी पायी गयीं. इस पर उन्होंने काफी नाराजगी जतायी. उधर, राजधानी के सात एमटीएस में से हरमू एमटीएस में छठे दिन भी कर्मियों की हड़ताल जारी रही. सफाईकर्मी पीएफ की मांग को लेकर हड़ताल पर हैं. वहीं, निगम द्वारा शुरू की जा रही नयी पहल के लिए नगर आयुक्त स्लॉटर हाउस पहुंचे थे.

इसे भी पढ़ें- 1.60 करोड़ रुपये की बकाया राशि की मांग को लेकर वेंडरों ने एमएसडब्ल्यू कार्यालय में की तालाबंदी

कार्य योजना तैयार करने का निर्देश

झिरी डम्पिंग यार्ड के निरीक्षण पर पहुंचे नगर आयुक्त ने यहां की सफाई व्यवस्था पर नाराजगी जतायी. उन्होंने कहा कि यहां पड़े रहनेवाले कचरे के कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. यहां लगनेवाले सॉलिड वेस्ट प्लांट की स्थिति पर भी उन्होंने समीक्षा की. उन्होंने देखा कि डम्पिंग स्टेशन पर कार्य करनेवाले कर्मचारियों के लिए पानी, शौचालय, स्वास्थ्य, सुरक्षा इत्यादि की कोई व्यवस्था नहीं है. नगर आयुक्त द्वारा स्वास्थ्य एवं अभियंत्रण शाखा को इस संबंध में अविलंब एक कार्य योजना तैयार करने का निर्देश दिया गया.

निगम ने बनायी वैकल्पिक व्यवस्था

उधर, राजधानी का सफाई कार्य छीने जाने के बाद से कंपनी एमएसडब्ल्यू के सभी एमटीएस में खड़े टाटा एस वाहन कूड़े का उठाव नहीं कर रहे हैं. हर एमटीएस से एक-दो वाहन ही कूड़े का उठाव कर रहे हैं. लिहाजा अब निगम ने अपने संसाधन के बल पर कई वार्डों में कूड़े का उठाव कार्य शुरू कर दिया है. मेयर के निर्देश के बाद जेल रोड तालाब स्थित खाली पड़े मिनी ट्रांसफर स्टेशन (एमटीएस) को कूड़ा डंपिंग स्टेशन के रूप में वैकल्पिक व्यवस्था की गयी है. यहां पर करीब चार वार्डों के कूड़े का उठाव कर डम्पिंग की जा रही है. यहां से कूड़े को उठाकर झिरी यार्ड भेजे जाने का कार्य संचालित हो रहा है.

Related Posts

पलामू, हजारीबाग एवं दुमका मेडिकल कॉलेजों में इसी सत्र से शुरू होगी पढ़ाई

राज्य सरकार के विशेष अनुरोध पर सुप्रीम कोर्ट ने पढ़ाई शुरू करने का आदेश सोमवार को दिया.

SMILE
झिरी डम्पिंग यार्ड में सफाई व्यवस्था दुरुस्त न देख बिफरे नगर आयुक्त, अविलंब कार्य योजना बनाने का दिया निर्देश
वार्ड 19 स्थित जेल मोड़ के पास निगम द्वारा बनाया गया वैकल्पिक कचरा डम्पिंग यार्ड.

इसे भी पढ़ें- क्या मेयर आशा लकड़ा ‘निगम’ से सीधा ‘लोकसभा’ जाने की चाहत रखती हैं ! 

स्लॉटर हाउस भी पहुंचे नगर आयुक्त

वहीं, झिरी यार्ड में मृत मवेशियों को फेंके जाने से जो समस्या बन रही है, उसके निदान के लिए नगर आयुक्त ने स्लॉटर हाउस में बने प्लांट का निरीक्षण किया. मालूम हो कि न्यूज विंग ने सोमवार को एक खबर प्रकाशित की थी कि रांची शहर में आये दिन रोड किनारे दुर्घटना से और घरों में पाले जानेवाले मवेशियों की मौत होती है. मरे मवेशियों को झिरी स्थिति डम्पिंग यार्ड में फेंकने से यहां रहनेवाले लोगों को काफी परेशानी होती है. इसके लिए अब मृत मवेशियों के शरीर को इस स्लॉटर हाउस में डिस्पोज किया जायेगा. मवेशियों के मृत शरीर को डिस्पोजल करने के बाद बचे रॉ मैटेरियल्स को वैसी कंपनियों को सौंप दिया जायेगा, जो इसका इस्तेमाल अन्य उत्पाद बनाने में करते हैं. इसके लिए स्लॉटर हाउस में लगे रेंडरिंग प्लांट का उपयोग किया जायेगा. मवेशियों की प्रोसेसिंग की पूरी प्रकिया में 20 प्रतिशत का भुगतान एजेंसी निगम को करेगी.

इसे भी पढ़ें- सी-विजिल ऐप से आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत मिलने के 10 मिनट के अंदर स्पॉट पर पहुंचेगी टीम, मिली…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: