JharkhandRanchi

मीडियाकर्मियों को #MunicipalCommissioner ने किया था बैन, #Councilors चाहते हैं निगम परिषद की बैठक का हो सीधा प्रसारण

Ranchi :  रांची नगर निगम की पिछली दो बैठकों में निगम प्रशासन और पार्षदों के बीच नोकझोंक की जो स्थिति बनी थी, उसे देख कुछ पार्षद निगम परिषद की बैठक का लाइव प्रसारण करने की मांग करने लगे हैं. पार्षदों का कहना कि निगम परिषद की बैठक में पारदर्शिता लाने के लिए बैठक का सीधा प्रसारण किया जाना जरूरी है.

इससे पहले गत वर्ष सितम्बर माह में परिषद की बैठक (तत्कालीन नाम बोर्ड बैठक) में मीडियाकर्मियों के भाग लेने पर नगर आयुक्त मनोज कुमार ने बैन लगा दिया था.

इसे भी पढ़ें : सुनिये सरकार, 1000 रुपये फॉर्म की फीस पर क्या कह रहे हैं बेरोजगार युवक

advt

पिछली दो बैठकों का पार्षद कर चुके हैं बहिष्कार

पार्षद निगम परिषद की बैठक का लाइव प्रसारण करने की बात इसलिए भी करने लगे हैं कि गत 29 अगस्त को निगम परिषद की बैठक में मेयर-डिप्टी मेयर के क्रियाकलाप से पार्षदों ने काफी नाराजगी जतायी थी. नाराजगी का कारण था बैठक का देर से शुरू होना. मेयर और डिप्टी मेयर के किसी सरकारी कार्यक्रम में व्यस्त रहने के कारण तय समय सीमा में बैठक नहीं हो सकी.

इससे पार्षदों का गुस्सा निगम परिसर में ही फूटा था. गत गुरुवार को (26 सितम्बर) को भी पूजा की तैयारी को लेकर बैठक बुलायी गयी थी. लेकिन पार्षदों ने इस दौरान अटल वेंडर मार्केट मेंटेनेंस काम में करीब 12.50 लाख खर्च हो रही राशि को भ्रष्टाचार बताकर जांच की मांग की थी. हालांकि पार्षदों की मांग को मेयर, डिप्टी मेयर सहित नगर आयुक्त ने  अऩदेखा कर दिया था.

adv

इसे भी पढ़ें : सरकार के आश्वासन से कितने संतुष्ट हैं पारा टीचर, हमें लिखे…

संसद और विधानसभा का होता है लाइव प्रसारण, निगम का क्यों नहीं :  अरुण झा

वार्ड 26 के पार्षद अरुण कुमार झा का कहना है कि निगम परिषद की बैठक का सीधा प्रसारण केबल के माध्यम से होना चाहिए. इससे मीडिया रिपोर्टरों और राजधानी की जनता, निगमकर्मी को सही बातों की जानकारी हो सकेगी. इससे बैठक पूरी तरह से पारदर्शी हो सकेगी. उन्होंने कहा,  जब विधानसभा और लोकसभा का सीधा प्रसारण दिखाया जाता है, तो निगम परिषद की बैठक का क्यों नहीं.

सच जानने के लिए हो लाइव प्रसारण :  साजदा खातून

वार्ड 23 की पार्षद साजदा खातून ने भी लाइव प्रसारण की मांग की है. उनका कहना है कि कई वार्डों में पिछले 6 माह से 14वें वित्तीय वर्ष की योजना का फंड तक नहीं आया है. राशि मांगे जाने पर निगम की तरफ से बोला जाता है कि सभी पार्षदों को राशि भेज दी गयी है. जब नगर विकास मंत्री से राशि के बारे में पूछा जाता है, तो वे कहते हैं कि योजना राशि अभी तक नहीं आयी है. साजदा खातून ने कहा कि इसी सच को जानने के लिए बैठक का लाइव प्रसारण होना चाहिए.

जनता जाने कि पार्षद क्या करते हैं मांग : अर्जुन राम

वार्ड 25 के पार्षद अर्जुन राम का कहना है कि बैठक में मीडिया के नहीं रहने से पार्षद जो बात कहते है, उसकी जानकारी लोगों को नहीं हो पाती है. वार्ड के विकास के लिए मांगी गयी योजनाओं को निगम जनप्रतिनिधि या अधिकारी पूरी नहीं करते है. इसके लिए जरूरी है कि मीडिया कर्मियों को बैठक में शामिल किया जाये.

इसे भी पढ़ें :  जानिए, बकोरिया कांड, CID जांच, #CBI जांच, पूर्व DGP डीके पांडेय और ज्वाइंट डायरेक्टर अजय भटनागर में क्या है रिश्ता

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: