JharkhandRanchi

स्वास्थ्य विभाग के मल्टीपर्पस वर्कर्स ने दी आंदोलन की चेतावनी, कहा- मांगें पूरी नहीं हुई तो करेंगे कार्य बहिष्कार

Ranchi : झारखंड सरकार के स्वास्थ्य विभाग के अधीनस्थ सेवारत मल्टी पर्पस वर्कर्स (एमपीडब्ल्यू) ने मानदेय में वृद्धि और स्थायीकरण सहित अन्य मांगों को लेकर आंदोलन पर जाने की चेतावनी दी है.

इस संबंध में झारखंड एमपीडब्ल्यू कर्मचारी संघ के पदधारियों ने कहा कि मांगों के संदर्भ में एक सप्ताह के अंदर यदि सरकार ने निर्णय नहीं लिया, तो बाध्य होकर आंदोलन करने को विवश होंगे.

advt

बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने सरकार को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि एक सप्ताह के भीतर मानदेय वृद्धि, स्थायीकरण और कर्मियों का 50 लाख रुपये का बीमा आदि मांगें नहीं पूरी हुईं, तो एक सप्ताह के बाद आंदोलन शुरू किया जायेगा.

इसे भी पढें :देवघर में ICU Bed के लिए 11 हजार से अधिक नहीं ले सकेंगे अस्पताल, जिला प्रशासन ने जारी की चेतावनी

इसके तहत कार्य बहिष्कार और काम ठप भी किया जायेगा. इस संबंध में कई एमपीडब्ल्यू ने कहा कि संघ सरकार के साथ वार्ता के लिए तैयार है. सरकार इस दिशा में सकारात्मक पहल करे, अन्यथा बाध्य होकर आंदोलन पर उतारू होना पड़ेगा.

गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण काल के दौरान वर्तमान में एमपीडब्ल्यू को कोरोना पर नियंत्रण करने के कार्यों में प्रतिनियुक्त किया गया है.

संघ के बहुउद्देशीय स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का कहना है कि सरकार ने मानदेय वृद्धि और स्थायीकरण सहित अन्य मांगों पर सकारात्मक निर्णय जल्द लेने का आश्वासन दिया था. लेकिन अभी तक इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं की गयी है. इससे मल्टी पर्पस वर्कर्स में आक्रोश व्याप्त है.

इसे भी पढें :66 साल के शख्स ने की 16 शादियां, 151 बच्चों का पिता करना चाहता है 17 वां मैरेज

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: