DhanbadJharkhand

#DMFT की बैठक में सांसद का सुझाव- इसी के फंड से हो धनबाद शहर का सौंदर्यीकरण

Dhanbad : जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (डीएमएफटी) के फंड से गया पुल का चौड़ीकरण किया जाना चाहिए. इसके लिए रेलवे से भी अनापत्ति प्रमाण पत्र मिल गया है. गया पुल के चौड़ीकरण में खर्च होने वाली राशि को व्यय करने में डीएमएफटी सक्षम है.

यह बातें सांसद पशुपतिनाथ सिंह ने कोयला नगर स्थित सामुदायिक भवन में आयोजित जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट के न्यास परिषद की बैठक में कही.

उन्होंने कहा कि गया पुल अंडरपास में हमेशा जाम लगा रहता है. सांसद ने सिंदरी से धनबाद की दूरी को कम करने के लिए जोड़ाफाटक से आमटाल होते हुए सड़क निर्माण करने का भी सुझाव दिया.

कहा कि इसके निर्माण से धनबाद झरिया के बीच शॉर्टेस्ट रूट स्थापित हो जायेगा.

सांसद ने डीएमएफटी फंड से धनबाद शहर का सौंदर्यकरण,  गोविंदपुर-बलियापुर तथा धनसार से नयी दिल्ली होते हुए मटकुरिया की ओर जाने वाली सड़क पर स्ट्रीट लाइट लगाने एवं अपराध पर अंकुश लगाने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाने का भी सुझाव दिया.

साथ ही उन्होंने पिट वॉटर को घर-घर तक पहुंचाने की सलाह भी दी.ट

इसे भी पढ़ें : पांच साल से न्याय की आस में बैठे हैं गढ़वा के चार अनाथ बच्चे, झालसा से लगायी गुहार

पेयजल की समस्या दूर करने के लिए करें सार्थक पहल : उपायुक्त

इस अवसर पर उपायुक्त अमित कुमार ने कहा कि जिले के विकास के लिए जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट के सभी सदस्यों को ट्रस्टीशिप के रूप में काम करना है जिससे जिला का चहुमुखी विकास किया जा सके.

इसके लिए सबकी सक्रिय भागीदारी और आपसी विश्वास बहाल करना होगा. पेयजल की समस्या का समाधान करने के लिए सभी सार्थक पहल करें.

उन्होंने कहा कि डीएमएफटी की अब तक की जितनी भी योजनाओं का क्रियान्वयन किया गया है, उसे वेबसाइट पर अपलोड कर दिया गया है. शीघ्र ही हर योजना पर एक बुकलेट भी तैयार की जायेगी.

जिससे जिले के विकास का मूल्यांकन किया जा सके. उपायुक्त ने सभी सदस्यों को प्रक्रिया का पालन कर योजना का चयन करने का सुझाव दिया. साथ ही कहा कि योजना का चयन प्राथमिकता के आधार पर करें.

इसे भी पढ़ें : रिनपास में 5 साल से रह रहे हैं 2 बांग्लादेशी, स्वास्थ्य मंत्री ने दिया आवश्यक कार्रवाई का निर्देश

तालाबों की खुदाई और जीर्णोद्धार का हो काम

कार्यक्रम में टुंडी टुंडी विधायक मथुरा प्रसाद महतो ने कहा कि कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी फंड से पेयजल,  शौचालय,  तालाबों की खुदाई  और तालाब का जीर्णोद्धार किया जाना चाहिए.

उन्होंने कहा, डीएमएफटी फंड की राशि से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को विकसित कर स्वास्थ्य सेवा को और बेहतर बनाना चाहिए. साथ ही सुदूरवर्ती क्षेत्रों की सड़कों को ठीक करना चाहिए.

वहीं सिंदरी विधायक इंद्रजीत महतो ने हिरक रोड पर तीन किमी जर्जर सड़क को इस फंड से बनाने का सुझाव दिया. कहा कि इसके बन जाने से सिंदरी और धनबाद के बीच की दूरी कम होगी.

कार्यक्रम में उपस्थित झरिया विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह ने कहा कि डीएमएफटी हमारा विशेषाधिकार है. इसकी राशि के उपयोग में विशेष ध्यान देना होगा और धैर्य भी रखना होगा.

बैठक में जिला परिषद अध्यक्ष रोबिन चंद्र गोराई,  एसएसपी किशोर कौशल,  डीडीसी बाल किशुन मुंडा आदि मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें : कॉन्ट्रेक्ट कर्मियों के स्थायीकरण में ‘सृजित पद’ का पेच: 8 माह बीते, सिर्फ दो कर्मी योग्य, एक हुआ नियमित

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close