न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लॉकडाउन में पत्रकारों और जरुरतमंदों पर भी लाठी भांजने को उतावली पुलिस, सांसद और विधायकों ने जतायी चिंता

1,659

Ranchi :  लॉकडाउन की स्थिति में बाहर निकलना पत्रकार और जरूरतमंद लोगों के लिए भी कहीं-कहीं भारी पड़ जा रहा है. आवश्यक सेवाओं को लॉकडाउन से राहत दी गयी है. पर इसके लिए घरों से निकलना एक बेहद कठिन काम दिखने लगा है. हालांकि पुलिस लोगों को मजमा लगाने से रोकने का भी काम कर रही है.

पर बेवजह कई जगहों पर लाठियां भी चला दे रही है. लोहरदगा सांसद सुदर्शन भगत, गुमला विधायक भूषण तिर्की, सिमडेगा विधायक भूषण बाड़ा समेत कई लोगों ने इस पर चिंता जतायी है.

इसे भी पढ़ेंः #FightAgainstCorona : मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने निजी खाते से सीएम राहत कोष में डाला एक लाख, JMM के मनोज पांडेय ने दिये 51 हजार, आप भी करें योगदान

कैसे होगा खबर संकलन

गुमला जिले के पत्रकार और जिला प्रेस एसोसिएशन, गुमला के उपाध्यक्ष बजरंग गुप्ता आज एक दैनिक अखबार के लिए समाचार संकलन के लिए चैनपुर में लगनेवाले एक साप्ताहिक बाजार में गए थे. वहां चैनपुर थाना के समीप अपना परिचय दिए जाने के बावजूद पुलिसकर्मियों ने उन पर लाठियां बरसा दीं.

घायल अवस्था में जान बचाने को वे दौड़ते हुए थाना में ही घुस गये. बाद में उन्होंने डॉक्टरी सहायता ली. गुमला तथा दूसरे जिले के पत्रकारों ने इस पर चिंता जताते हुए कहा है कि इससे कोरोना आपदा के समय लोगों तक वाजिब ख़बरों को पहुँचाने में समस्या  आयेंगी.

Whmart 3/3 – 2/4

इसे भी पढ़ेंः #Kolkata: अचानक बाजारों में जा पहुंची मुख्यमंत्री, ईंट लेकर सड़क पर बनाया सुरक्षा घेरा

सांसद सुदर्शन भगत और विधायक भूषण तिर्की जतायी चिंता

गुमला पत्रकार संघ ने दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ एसपी अंजनी कुमार झा से की है. उन्होंने दोषी पुलिसकर्मियों के मामले में कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया है. सांसद सुदर्शन भगत ने चैनपुर के पत्रकार की पिटाई पर चिंता प्रकट किया है.

गुमला विधायक भूषण तिर्की ने कहा है कि मुसीबत की घड़ी में पत्रकार पूरी ईमानदारी के साथ काम करते हैं. अभी देश व राज्य में कोरोना महामारी का संकट है. इस संकट में भी पत्रकार देश दुनिया, राज्य व गुमला में क्या हो रहा है, इसकी जानकारी अखबार व टीवी के माध्यम से दे रहे हैं. ऐसे में पत्रकार के साथ मारपीट करना गलत है.

पुलिसकर्मी धैर्य से लॉकडाउन को बनायें सफल : भूषण बाड़ा

सिमडेगा विधायक भूषण बाड़ा ने लॉकडाउन के दौरान सड़को पर निकल रहे आम लोगों की मजबूरी जाने बिना ही पिटाई करने पर पुलिस प्रशासन और जिला प्रशासन पर नाराजगी व्यक्त की है. विधायक ने कहा है कि कोरोना वायरस को लेकर जिले में भी लॉकडाउन है और जनता पूरा साथ दे रही है.

सरकारी कर्मियों को भी पुलिस ने पीटा

इधर जिले के सरकारी कर्मचारी अपनी जान की परवाह किए बिना ही काम कर रहे हैं. लेकिन पुलिस प्रशासन सरकारी कर्मचारियों पर भी लाठी डंडे से पिटाई कर रही है जो निंदनीय है. बुधवार को सरकारी कर्मचारी ड्यूटी करने अपने कार्यस्थल पर जा रहे थे, या ड्यूटी करके लौट रहे थे. इसी दौरान पुलिसकर्मियों ने उपयुक्त जानकारी देने के बावजूद उन्हें जमकर पीट दिया.

इससे कई सरकारी कर्मचारी घायल हो गए. प्रशासन कर्मचारियों को ड्यूटी करा रहा है तो सभी कर्मचारियों को आईकार्ड दे. पुलिस कोरोना वायरस से बचाने के लिए सख्ती बरत रही है पर सख्ती करने से पूर्व लोगों की मजबूरी पूछे. बिना मजबूरी जाने सीधे सीधे मारपीट करना गलत है.

इसे भी पढ़ें: बंगाल में एक और व्यक्ति हुआ कोरोना से संक्रमित, संख्या बढ़कर हुई 10, ममता ने मुख्यमंत्रियों को लिखा पत्र

न्यूज विंग की अपील – देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like