न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#MP_Crisis: SC ने राज्य सरकार, कांग्रेस और बागी विधायकों को भेजा नोटिस, कल फिर होगी सुनवाई

700

NewDelhi: मध्य प्रदेश के सियासी संकट पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई, अदालत ने अभी राज्य सरकार, स्पीकर और बागी विधायकों को नोटिस जारी किया है, जिसपर बुधवार को सुनवाई होगी.

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में मध्य प्रदेश सरकार को स्टैंडिंग काउंसिल के जरिए नोटिस जारी किया है. इसके अलावा कांग्रेस पार्टी और स्पीकर को भी नोटिस जारी किया गया है. इसी के साथ सुनवाई को कल तक के लिए टाल दिया गया है और अब बुधवार को इस मामले पर सुनवाई होगी.

Whmart 3/3 – 2/4

इस सुनवाई के बाद ये साफ हो गया है कि मध्य प्रदेश में मंगलवार को भी फ्लोर टेस्ट नहीं होगा और बुधवार की सुनवाई के बाद ही इस लेकर कुछ साफ हो सकेगा.

इधर उच्चतम न्यायालय में सुनवाई से पहले कांग्रेस के बागी विधायक मीडिया के सामने आये और उन्होंने कहा कि वो बंधक नहीं, बल्कि अपनी मर्जी से पार्टी छोड़ी है.

इसे भी पढ़ेंःपूर्व CJI रंजन गोगोई को राज्यसभा के लिए नॉमिनेट किये जाने पर विपक्षी नेताओं ने खड़े किये सवाल

15 मिनट भी हमारी बात नहीं सुनते थे कमलनाथ- बागी MLA

पिछले कई दिनों से कर्नाटक के बेंगलुरु में रुके हुए कांग्रेस के बागी विधायकों ने मंगलवार को मीडिया से बात की. बागी विधायकों का कहना है कि उनके नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया हैं.

बागी विधायक राजवर्धन सिंह ने कहा कि हमें किसी ने बंधक नहीं बनाया है। हम कमलनाथ सरकार की कार्यशैली से खुश नहीं हैं और हम सभी साथ हैं.

वहीं कांग्रेस से बागी हुए विधायक गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि कमलनाथ जी ने हमें कभी 15 मिनट भी नहीं दिए. वो हमारी बात नहीं सुनते थे, ऐसे में हम अपनी विधानसभा में विकास के लिए किससे बात करें?

वहीं बागी विधायक इमरती देवी ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया हमारे नेता हैं, उन्होंने हमें बहुत कुछ सिखाया है. मैं हमेशा उनके साथ रहूंगी चाहे मुझे कुएं में ही क्यों ना कूदना पड़े.

इसे भी पढ़ेंः #Corona से देश में तीसरी मौतः महाराष्ट्र में 64 साल के बुजुर्ग ने तोड़ा दम,128 पॉजिटिव

हालांकि, विधायकों का कहना है कि अभी उन्होंने बीजेपी में जाने पर फैसला नहीं लिया है, वे इसपर विचार करने के बाद फैसला करेंगे.

बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के बाद पार्टी के 22 विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है. इनमें 6 मंत्री भी शामिल हैं. इन 6 मंत्रियों के इस्तीफे स्पीकर ने मंजूर कर लिये हैं.

इस्तीफे के बाद बीजेपी का कहना है कि कमलनाथ सरकार अल्पमत में है और विधानसभा में जल्द से जल्द फ्लोर टेस्ट हो, वहीं कांग्रेस बाकी के 16 विधायकों पर फैसला लेने की बात कर रही है.

इसे भी पढ़ेंः#MP_Crisis: SC में सुनवाई से पहले बोले बागी MLA- ‘सिंधिया हमारे नेता, वो कहें तो कुएं में कुदने को भी तैयार’

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like