JharkhandLead NewsRanchi

सांसद सेठ चाहते हैं, झारखंड में भी लव जिहाद रोकने का कानून बने

  • झारखंड में बेटियों-बहनों को टारगेट कर समाजिक सद्भाव बिगाड़ रहे असमाजिक तत्वों पर कार्रवाई जरूरी : सांसद

Ranchi: सांसद संजय सेठ ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखकर झारखंड में लव जिहाद के खिलाफ कठोर कानून बनाने की मांग की है. उन्होंने कहा कि झारखण्ड में लव जिहाद के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. अब तक झारखंड की हजारों बहनें व बेटियां इसका शिकार हो चुकी हैं.

उन्होंने कहा है कि लव जिहाद निश्चित रूप से सभ्य समाज के लिए बहुत ही घृणित कार्य है. इससे समाज का ताना-बाना न सिर्फ टूटता है बल्कि सामाजिक सद्भाव बिगड़ता है और एक दूसरे की विश्वसनीयता भी खतरे में आ जाती है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ें : तारेक फतेह बोले, राजद्रोह का आरोप लगा फांसी देना चाहती है पाकिस्तानी सरकार

The Royal’s
Sanjeevani

उन्होंने कहा कि बीते एक दशक में झारखंड में इस तरह के हजारों मामले सामने आए. कई मामलों में पुलिस केस दर्ज हुआ और कई मामले पुलिस के सामने नहीं आ सके. इस प्रकरण में सबसे दुर्भाग्यपूर्ण यह है कि अपना नाम और अपनी पहचान छुपा कर बहनों-बेटियों के साथ विवाह किया जाता है और बाद में उन पर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया जाता है.

सेठ ने अपने पत्र में कहा है कि जमशेदपुर, हजारीबाग, चतरा, रांची, दुमका, गिरिडीह, धनबाद सहित झारखंड के लगभग प्रत्येक जिले में ऐसे मामले देखने को मिलते हैं. इस मामले में यह आवश्यक है कि सरकारी स्तर पर कड़े कानूनी प्रावधान बनाए जाएं ताकि हमारी बहन-बेटियां और उनका भविष्य दोनों सुरक्षित हो सके.

सांसद ने इस मामले में उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की सरकारों का हवाला देते हुए कड़े कानून बनाने से संबंधित प्रस्ताव लाने की मांग की है.

इसे भी पढ़ें :कोरोना और टीबी के खिलाफ जंग में झारखंड के लाल का कमाल

Related Articles

Back to top button