JharkhandLead NewsRanchi

सांसद संजय सेठ ने India that is Bharat लिखे जाने पर जतायी आपत्ति, कहा- सिर्फ भारत हो नाम

Ranchi : लोकसभा सत्र के दौरान मंगलवार को रांची सांसद संजय सेठ ने देश का नाम सिर्फ भारत रखे जाने की मांग केंद्र सरकार से की. कहा कि इस देश का नाम अनादि काल से भारत रहा है. ऐसे में India that is Bharat कहने और लिखने या बोलने की जरूरत ही क्यों है. हर चीज के लिए अंग्रेजों से उधार लेने की आवश्यकता क्यों.

मध्यकाल में सिंधु को जब तुर्की और ईरानी पार नहीं कर पाये तो उन्होंने इसे हिंदू कहा. इस प्रकार देश का नाम भारत होने के बावजूद हिंदुस्तान हो गया. देश में भी अरसे से लोग अब भी हिंदुस्तान कहते आ रहे हैं.

इसे भी पढ़ें:जेबीवीएनएल ने नियामक आयोग को दिया बिजली दर बढ़ाने का प्रस्ताव

जब अंग्रेजों को हिंदुस्तान कहने-बोलने में परेशानी हुई तो उसने सिंधु घाटी जिसे कभी इंदु वैली भी कहा जाता था, उससे प्रभावित होकर भारत को इंडिया के नाम से पुकारा.

ऐसे में विदेशियों के द्वारा दिये गये नाम से प्रभावित होकर India That is Bharat कहना भारत जैसे विशाल देश और उसकी महान गौरवशाली संस्कृति का अपमान है.

इसे भी पढ़ें:पटना हाइकोर्ट ने राज्य में अमीन के 1767 पदों पर नियुक्ति की निरस्त

भारत का पर्याय इंडिया बनाना वैध नहीं

सांसद ने कहा कि अंग्रेजों के द्वारा इंडिया कहने के पूर्व इस देश का नाम मनीषियों ने कई नामों से पुकारा. भारतवर्ष, आर्यावर्त, ब्रह्मावर्त, जम्बूद्वीप आदि ऐसे नाम भारतीय ग्रंथों में दिये गये.

ऐसे गौरवशाली नामों को विस्मृत कर भारत का पर्याय इंडिया को बना देना और फिर इंडिया नाम को ही सार्वभौमिकता प्रदान करते हुए India That is Bharat कहना न्याय संगत नहीं है. सदन के माध्यम से सरकार से आग्रह करते हुए कहा कि भारत का नाम सिर्फ भारत हो.

India That is Bharat कहने और लिखने की परंपरा समाप्त हो. संविधान में लिखे गये ऐसे वाक्यों में सुधार हो और भारत को सिर्फ भारत के नाम से ही हम जानें, इस दिशा में काम किया जाये.

इसे भी पढ़ें:मिस्र में मिला 4500 साल पुराना HINDU TEMPLE , भव्यता देखकर पुरातत्वविद भी हुए हैरान

Advt

Related Articles

Back to top button