RanchiTODAY'S NW TOP NEWS

सांसद संजय सेठ का रात्रि बाजार गायब, दो हफ्ते भी ठीक से नहीं चला

Ranchi :   हाल ही में बीजेपी की टिकट पर सांसद बने संजय सेठ ने जिस तामझाम के साथ बड़ा तालाब (स्वामी विवेकानंद सरोवर) स्थित रोटरी पार्क के पास रात्रि बाजार लगाने का काम शुरू किया था. वह गायब हो गया है. केवल दो हफ्ते के बाद ही बीते शनिवार और रविवार को रांची के बड़ा तालाब के पास न ही रात्रि बाजार लगा और न ही कला संस्कृति विभाग की ओर से कोई रंगारंग कार्यक्रम ही प्रस्तुत किया गया. रविवार को न्यूज विंग संवाददाता ने रात 9:10 मिनट पर बाजार की स्थिति की जानकारी लेनी चाही, लेकिन यहां पहुंचने पर रात्रि बाजार जैसी भीड़ नहीं दिखी.

दिखीं तो सिर्फ सुनसान सड़कें और उसपर चल रहे 4-5 लोग. साथ ही दिखा निगम द्वारा उस स्थान पर लगाया गया रात्रि बाजार के नाम का बैनर. इससे पहले सांसद बनते ही जब संजय सेठ रांची आये थे, तो उन्होंने रात्रि बाजार शुरू करने का आदेश दिया था. साथ ही कहा था कि इसके पीछे मुख्य उद्देश्य शहरवासियों को बताना है कि शहर अभी जिंदा है.

साथ ही उस समय संजय सेठ ने बड़े दावे के साथ कहा था कि रांची की जनता अगर सपोर्ट करेगी, तो बाजार चलता रहेगा. इसके लिए उन्होंने जनता को तमाम सुरक्षा व्यवस्था देने का भी दावा किया था. लेकिन अब जो जानकारी है, उसके मुताबिक उद्घाटन के दूसरे हफ्ते ही छिटपुट आपराधिक गतिविधियों का वजह से लोग रात्रि बाजार आने से कतराने लगे.

इसे भी पढ़ें – देश की सरकारी टेलीकॉम कंपनी बीएसएनएल की हालत खस्ता, कर्मचारियों को वेतन देने के लिए नहीं हैं पैसे

मंत्री जी ने 8 जून को किया था उद्घाटन

सांसद संजय सेठ का रात्रि बाजार गायब, दो हफ्ते भी ठीक से नहीं चला

इससे पहले बीते 8 जून को शनिवार रात्रि से बड़ा तालाब के पास बाजार लगाने का काम शुरू हुआ था. हर हफ्ते शनिवार व रविवार की रात 8.00 बजे से 12.00 बजे तक पार्क के दोनों गेट तक लगने वाले इस बाजार का उद्घाटन नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने किया था. इस दौरान मंत्री के अलावा संजय सेठ, कांके विधायक जीतू चरण राम, मेयर आशा लकड़ा, डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय सहित कई लोग उपस्थित थे. वहीं उद्घाटन के पहले दिन बाजार में खाने-पीने की दुकानें सहित खिलौना, चादर, कपड़े, चूड़ी, आर्टिफिशियल ज्वेलरी आदि की दुकानें लगी थीं.

इसे भी पढ़ें – पुलिस अफसर की गाड़ी में घूमता है और चेंबर में बैठता है कुख्यात अपराधी बिट्टू मिश्रा

बाजार में घटी आपराधिक घटना : स्थानीय दुकानदार

वहीं इस रविवार रात सवा 9 बजे को यहां पहुंचने के बाद जैसी स्थिति दिखी, उससे यहां के स्थानीय दुकानदार बुधन साव से बाजार की जानकारी ली गयी. उन्होंने कहा कि बाजार लगने के दौरान यहां पर मोबाइल छिनने और पॉकेटमारी की घटना की उन्हें जानकारी मिली है.

शायद इससे भी बाजार आने से लोग सहम गये हैं. हालांकि मीडिया में इस तरह की बातें अबतक सामने नहीं आयी हैं.  लेकिन अगर सासंद की बात सच भी होती है  तो सांसद के द्वारा सुरक्षा मुहैया कराने के बयान पर सवाल खड़े होते हैं.

निगम ने नहीं सांसद ने की थी पहल :  मेयर

इस पूरे मामले पर जब मेयर से सवाल किया गया को, उन्होंने कहा कि रात्रि बाजार लगाने की पहल निगम ने नहीं सांसद ने की थी. हमने तो यही कहा था कि अगर बाजार पूरी तरह से सक्सेस होता है, तो ही निगम इसे लगाएगा.

जब उनसे पूछा गया कि बाजार सक्सेस नहीं होने के पीछे का कारण क्या है, तो मेयर ने कहा कि   बाजार लगाने की जगह ही काफी छोटी है. अब इससे अलग निगम ने चार स्थानों पर बाजार लगाने का फैसला किया है. निगम परिषद की बैठक में चार स्थानों को भी चयनित किया गया है. बरसात के बाद यहां बाजार लगाने का काम शुरू होगा.

इसे भी पढ़ें – झारखंड के ऐसे छह चर्चित हत्याकांड जिसकी गुत्थी अबतक सुलझा नहीं पायी राज्य की जांच एजेंसियां

Related Articles

Back to top button