न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अपनी ही पार्टी पर सांसद सैनी का हमलाः कहा- हरियाणा में हारने वाले हैं 90 फीसदी बीजेपी MP-MLA

'चीफ मिनिस्टर और मिनिस्टर भी एमएलए हैं. ऐसे में भगवान ही जाने कौंन जीतेगा और कौन नहीं'

264

NewDelhi:  अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले हरियाणा कुरुक्षेत्र सांसद राजकुमार सैनी ने अपनी ही पार्टी के खिलाफ बड़ा बयान दिया है. अपनी पार्टी बीजेपी के खिलाफ हमला बोलते हुए उन्होंने कहा है कि हरियाणा में भाजपा के 90 फीसदी एमपी, एमएलए चुनाव हारने वाले हैं. ये बात उन्होंने हाल ही में एक न्यूज चैनल से बात करते हुए कही है. उन्होंने कहा है कि चीफ मिनिस्टर और मिनिस्टर भी एमएलए हैं. ऐसे में भगवान ही जाने कौंन जीतेगा और कौन नहीं.

इसे भी पढ़ेंः दिल्ली सरकार के पास असली ताकत, LG नहीं लटका सकते फैसलेः SC

सैनी को पार्टी से नहीं नाराजगी

ऐसा पहली बार नहीं है जब सैनी ने पार्टी के खिलाफ बयान दिया हो. वहीं, पार्टी से नाराजगी को लेकर पूछे गए सवाल में उन्होंने कहा कि मेरी पार्टी से कोई नाराजगी नहीं, बल्कि जाट आंदोलन के समय हुई अभद्रता से है. सैनी ने कहा कि भाजपा ने उन लोगों के ही खिलाफ काम किया है, जिन्होंने उसको वोट दिया है. साथ ही उन्होंने नई पार्टी बनाने की भी बात कही है. उन्होंने कहा कि वह जल्द नई पार्टी की घोषणा करेंगे. उन्होंने काह कि  चुनाव आयोग में पार्टी की औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं. भाजपा के साथ अपने संबंधों को लेकर सैनी ने कहा कि पिछले तीन सालों से भाजपा से उनकी कोई बातचीत नहीं हुई है. वहीं, पार्टी हाईकमान की ओर से सैनी को कई नोटिस भी जारी किए जा चुके हैं.

पीएम मोदी से नाराजगी नहीं

भाजपा सांसद ने यह भी कहा कि पीएम मोदी से उनकी कोई नाराजगी नहीं है. उनकी नाराजगी निचले स्तर पर काम रहे पदाधिकारियों से है, जिसको कोई जानकारी ही नहीं है. आरक्षण की पैरवी करते हुए सांसद ने कहा कि आबादी के हिसाब से 100 प्रतिशत आरक्षण दिया जाना चाहिए. उन्होंने 100 प्रतिशत आरक्षण की वकालत की और कहा कि आबादी के प्रतिशत के हिसाब से आरक्षण दिया जाना चाहिए. सैनी ने कहा कि मौका मिलने पर वह इसे हरियाणा में लागू करके दिखाएंगे.

वहीं, बीजेपी सांसद के पार्टी के खिलाफ इतनी बड़ी बयानबाजी करने पर अभी तक पार्टी की ओर से कोई जवाब नहीं आया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: