BokaroJharkhand

डीवीसी इंजीनियर के घर का ताला तोड़कर गिरिडीह सांसद का आवासीय कार्यालय बनाया गया, थाना में शिकायत दर्ज

Sanjay

Bermo : बोकारो थर्मल स्थित डीवीसी की आवासीय कॉलोनी में डीवीसी के अधीक्षण अभियंता को आवंटित आवास का ताला तोड़कर गिरिडीह के सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी का कार्यालय बना दिये जाने के बाद अभियंता ने स्थानीय थाना को आवेदन दिया है.

उन्होंने आवास को खाली करवाने एवं आजसू के स्थानीय नेताओं पर कार्रवाई करने की मांग की है. डीवीसी की हाउसिंग कमिटी के द्वारा आवासीय कॉलोनी में आवास संख्या टाइप 2/1 को अधीक्षण अभियंता आदिल फैयाज के नाम से आवंटित किया गया है. आवास आवंटित करने के बाद अभिंयता के द्वारा आवास में काम करवाया जा रहा था.

इसी बीच स्थानीय आजसू के नेताओं ने आवास का ताला तोड़कर उसे गिरिडीह के सासंद चंद्रप्रकाश चौधरी का आवासीय कार्यालय घोषित कर दिया. इसके आगे झंडा एवं सांसद, आजसू अध्यक्ष सुदेश महतो तथा पीएम नरेंद्र मोदी का होर्डिंग लगा डाला.

इसे भी पढ़ेंः कृषि विभाग के फील्ड सुपरवाइजर को 40 हजार रुपया घूस लेते एसीबी ने किया गिरफ्तार

इंजीनियर ने क्या लिखा है आवेदन में

अभियंता ने थाना को दिये आवेदन में लिखा है कि आवास संख्या टाईप 2/1 3 अक्टूबर 2019 उनके नाम से आवंटित हुआ है. मरम्मती कार्य करवाने को लेकर आवास में शिफ्ट नहीं किया जा सका था. वे वर्तमान में डीएम 7/बी आवास में रह रहे हैं.

क्या कहते हैं सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी

गिरिडीह सांसद चंद्र प्रकाश चौधरी ने पूछे जाने पर कहा कि मैंने आवासीय कार्यालय के लिए डीवीसी को नौ माह पूर्व आवेदन दिया था. परंतु आज तक डीवीसी ने आवास आवंटन नहीं दिया.उक्त आवास खाली था तो कार्यालय खोल लिया गया.

कहा कि डीवीसी ने बैक डेट में उक्त आवास इंजीनियर को आवंटित कर दिया. कब्जा किये गये सभी आवास डीवीसी खाली करवाये तो उक्त आवास को भी खाली कर दिया जाएगा.

इसे भी पढ़ेंः बेशर्म नेता और बेबस मध्यप्रदेश : विधायक करोड़ों में बिक रहे हैं और जनता घरों में कैद है

विवश होकर बनाया गया कार्यालय

इस बाबत बेरमो प्रखंड अध्यक्ष मंजूर आलम कहा कि बोकारो थर्मल में सांसद के नाम से आवासीय कार्यालय आवंटित करने हेतु सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी ने 5 जून 2019 को डीवीसी प्रबंधन को आवेदन दिया था. परंतु नौ माह बीत जाने के बाद भी सांसद के नाम से कार्यालय का आवंटन नहीं किया जा सका है.

अंत में विवश होकर डीवीसी के खाली पड़े आवास टाइप 2/1 को आजसू पार्टी का आवासीय कार्यालय बनाया गया है. ताकि सांसद बोकारो थर्मल में रहकर स्थानीय लोगों एवं ग्रामीणों की समस्याओं से अवगत हो सकें.

क्या कहते हैं अधिकारी

बोकारो थर्मल के इंस्पेक्टर उमेश कुमार ठाकुर ने कहा कि अभियंता आदिल फैयाज ने आजसू पार्टी के द्वारा उनके आवंटित आवास पर जबरन कब्जा किये जाने की लिखित शिकायत कर आवास खाली करवाने का अनुरोध किया है. आवेदन के आधार पर मामले की जांच की जा रही है.

सांसद के द्वारा डीवीसी प्रबंधन को आवास आवंटन को लेकर दिये गये आवेदन पर अपर निदेशक नीरज सिन्हा ने कहा कि आवेदन को कोलकाता एप्रूवल के लिए भेजा गया है. परंतु कोलकाता से स्वीकृति नहीं आने के कारण आगे की कार्रवाई नहीं हो पायी है.

इसे भी पढ़ेंः देखें वीडियो :  शहीद सदानंद झा के शहादत दिवस पर आयोजित मेले में किया गया अश्लील डांस, पुलिस ने जमकर लुटाये पैसे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button