JharkhandRanchi

बेरोजगारी की समस्या दूर करने के लिए एचसीएल ट्रेनिंग एंड स्टॉफिंग के साथ हुआ एमओयू

Ranchi: राज्य में बेरोजगारी के समस्या के समाधान के लिए पूर्ण रूप से कार्ययोजना तैयार की जायेगी. श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग ने इसे देखते हुए मेसर्स एचसीएल ट्रेनिंग एंड स्टॉफिंग सर्विस प्राइवेट लि.के साथ एमओयू किया गया है. श्रम विभाग ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है. इस एजेंसी के जरिये प्लेसमेंट लिंक स्किल ट्रेनिंग के द्वारा राज्य के बेरोजगार युवाओं को ट्रेनिंग एवं रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में काम किया जायेगा. एमओयू के तहत रांची में मॉडल करियर सेंटर में परामर्श सह-प्रशिक्षण केंद्र उपलब्ध कराया जायेगा. इसके बाद धनबाद, जमशेदपुर, पलामू एवं दुमका में मॉडल करियर सेंटर में परामर्श-सह परीक्षण केंद्र की उपलब्धता करायी जायेगी. एजेंसी उम्मीदवारों की काउंसलिंग और मूल्यांकन का भी कार्य करेगी.

एचसीएल टेक बी कार्यक्रम के लिए उम्मीदवारों को अंतिम रूप से तैयार करके रोजगार उपलब्ध कराने का काम करेगा. एमओयू एक साल के लिए प्रभावी होगा. विभाग एवं एजेंसी के बीच आपसी सहमति के बाद इसे विस्तारित किया जायेगा.

इसे भी पढे़ं:झारखंड : JSSC ने माना कोर्ट का आदेश, केस वापस

Catalyst IAS
ram janam hospital

एचसीएल ट्रेनिंग एंड स्टॉफिंग सर्विस प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा एक वर्ष प्रशिक्षण दिया जायेगा. जिसमें उनके द्वारा निर्धारित प्रशिक्षण शुल्क लिया जायेगा,जिसका विस्तृत रूप-रेखा एमओयू में शामिल है.

The Royal’s
Sanjeevani

ट्रेनिंग के बाद प्रशिक्षणार्थी एचसीएल ट्रेनिंग एंड स्टॉफिंग सर्विस प्राइवेट लि.के पूर्णकालिन कर्मी होंगे. वित्तीय व्यवस्था विभाग व कंपनी के बीच पारस्परिक रूप से होगा.

इसे भी पढे़ं:21 सालों से पशुपालन कैडर के पदों का पुनर्गठन नहीं, झारखंड पशु चिकित्सा सेवा संघ ने मंत्री बादल से लगायी गुहार

Related Articles

Back to top button