Opinion

इन 8 राज्यों में जायेंगी सबसे अधिक नौकरियां, कितनी? लगभग 40 करोड़

विज्ञापन

Soumitra Roy

अच्छी खबर मैं दे नहीं पाऊंगा, क्योंकि नरेंद्र मोदी की नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने इसकी गुंजाइश नहीं छोड़ी है.

क्रिसिल ने अपने अनुमान में कहा है कि देश के उत्पादन में 65.5%, कंस्ट्रक्शन के क्षेत्र में 60% और सेवा के क्षेत्र में 53% का योगदान करने वाले देश के 8 राज्यों में सबसे ज्यादा नौकरियां जाने वाली हैं.

advt

कितनी ?  लगभग 40 करोड़.

जिन राज्यों में बड़े पैमाने पर नौकरियां जाने वाली हैं, उनमें महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, राजस्थान, आंध्रप्रदेश, यूपी, पश्चिम बंगाल और तेलंगाना. ये सभी 8 राज्य देश की जीडीपी में 60% का योगदान करते हैं. देश के 58% कामगार इन्हीं राज्यों से हैं.

कोरोना का सबसे ज्यादा रेड जोन इन्हीं राज्यों में ही हैं.

महाराष्ट्र, तमिलनाडु और गुजरात को लॉकडाउन में उत्पादन का सर्वाधिक नुकसान होगा. आंध्र, राजस्थान और यूपी कर्ज़ में डूबे हुए हैं. आंध्र, बंगाल और तमिलनाडु में अनौपचारिक क्षेत्र के मज़दूरो की संख्या ज़्यादा हैं,  इसलिए भी वहां नौकरियां जाएंगी.

adv

आप कहेंगे मैं डरा रहा हूं. क्यों?  क्या मोदी जी डरे हुए हैं?  क्या उनके पास लॉकडाउन खोलने का कोई प्लान है? कोई नहीं जानता कि लॉकडाउन और कितने दिन रहेगा.

कोई नहीं जानता कि प्रति 10 लाख की आबादी पर 1777 टेस्ट करके मोदी कोरोना पर कब तक काबू पा लेंगे. 31 मई के बाद कोरोना दोगुनी यानी 10 हज़ार प्रतिदिन से ज्यादा की रफ्तार से बढ़ने का अनुमान है. फिर आज जहां भी लॉकडाउन खुला है, वे फिर रेड जोन में होंगे.

ये सिलसिला शायद पूरे साल चले. लेकिन अपने मिडिल क्लास के सब्र का बांध इतना मजबूत है कि चड्डी उतरने के बाद भी वे कुछ न बोलें. हालात ऐसे हैं कि अब मोदी सरकार से कोई उम्मीद नहीं की जा सकती.

डिस्क्लेमर : ये लेखक के निजी विचार हैं.

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button