न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पड़ोसी राज्यों से अधिक है झारखंड में बिजली की खपत, सालाना खपत 33 हजार मिलियन यूनिट

झारखंड में पांच लाइसेंसी वितरण निगम, डीवीसी, जुस्को, टाटा स्टील और सेल बोकारो करते  हैं बिजली की आपूर्तिपड़ोसी राज्य  ओडिशा में 23085, छत्तीसगढ़ में 18932 और बिहार में 10250 मिलियन यूनिट ही बिजली की खपत होती है.

143

Ranchi :  बिजली खपत के मामले में झारखंड पड़ोसी राज्य से आगे निकल गया है. भारत सरकार के आंकड़ों के अनुसार झारखंड में सालाना बिजली की खपत 33 हजार मिलियन यूनिट है. वहीं पड़ोसी राज्य  ओडिशा में 23085, छत्तीसगढ़ में 18932 और बिहार में 10250 मिलियन यूनिट ही बिजली की खपत होती है. झारखंड में पांच लाइसेंसी बिजली वितरण निगम, डीवीसी, जुस्को, टाटा स्टील और सेल बोकारो बिजली की आपूर्ति करते हैं.

इसे भी पढ़ें – राज्य में आईएएस अफसरों का टोटा, पहले से 43 कम, 2019 तक रिटायर हो जायेंगे 27 और अफसर

राज्य में घरेलू उपभोक्ताओं को 40 फीसदी की जाती है आपूर्ति

राज्यभर में पांचों लाइसेंसी घरेलू उपभोक्ताओं को 40 फीसदी बिजली की आपूर्ति करते हैं . औद्योगिक क्षेत्रों में 60 फीसदी बिजली की आपूर्ति की जाती है.  ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफिसियेंसी( ऊर्जा कार्यकुशलता ब्यूरो) ने अधिक बिजली की खपत को कम करने के लिये केरल मॉडल अपनाने की वकालत की है. कहा है कि देश में 400 मिलियन लाइन प्वाइंट हैं. भारत सरकार ने झारखंड में ऊर्जा संरक्षण अधिनियम के प्रावधानों को लागू करने का निर्देश दिया है. कहा है कि प्रावधानों को लागू करने से हर साल 800 करोड़ रुपये की बचत होगी. 180 करोड़ यूनिट बिजली की भी बचत की जा सकती है.

इसे भी पढ़ें –  सर्व शिक्षा का सच: जीरो ड्रॉप आउट पंचायत में भी ड्रॉप आउट बच्चे

गिनाये भी हैं बिजली बचत की संभावनायें

घरेलू- 20 से 25 फीसदी
कॉमर्शियल- 20 से 30 फीसदी
नगरपालिका क्षेत्र – 25 फीसदी
लघु उद्योग – 20 फीसदी
बड़े उद्योग- 07-08 फीसदी

इसे भी पढ़ें – IAS और IFS से भी नहीं संभला जेपीएससी, दो अध्यक्ष भी नहीं करा सके प्रक्रिया पूरी, लोकसभा चुनाव के बाद ही परीक्षा की संभावना

किस राज्य में सालाना कितनी होती है बिजली की खपत

राज्य    खपत( मिलियन यूनिट में)
आंध्र प्रदेश   83356
तमिलनाडू   63921
उत्तरप्रदेश   77400
राजस्थान    48808
हरियाणा   39425
पश्चिम बंगाल  36845
झारखंड    33000
ओडिशा   23085
छत्तीसगढ़   18932
पंजाब   17151
केरल   17140
बिहार    10250
हिमाचल प्रदेश   8748
उत्तराखंड   8720
असम    7032

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: