JharkhandLead NewsRanchi

गंगा क्वेस्ट प्रतियोगिता में झारखंड के 85,500 से ज्यादा युवाओं ने कराया निबंधन

नमामि गंगे, गंगा क्वेस्ट 2022 प्रतियोगिता

Ranchi : भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय की ओर से आयोजित गंगा क्वेस्ट को लेकर झारखंड के युवाओं में जबर्दस्त क्रेज देखने को मिल रहा है. अबतक झारखंड से 85,500 से ज्यादा निबंधन हुआ है और लोग क्वेस्ट में हिस्सा ले रहे हैं. इस क्वेस्ट में निबंधन की अंतिम तिथि 29 मई 2022 तक बढ़ा दी गयी है. पहले यह 22 मई तक ही थी. उम्मीद है कि आगे भी बड़ी संख्या में लोग इस क्वेस्ट से जुड़ेंगे.   इधर राज्य सरकार के नगर विकास एवं आवास विभाग अंतर्गत राज्य शहरी विकास अभिकरण की ओर से क्वेस्ट में हिस्सा ले रहे लोगों और खास कर युवाओं से अपील की गयी है कि क्वेस्ट के दूसरे चरण में वो ज्यादा संभल कर खेलें और कोशिश करें कि कम से कम समय में सभी प्रश्नों या अधिकतम सवालों का सही जवाब दें. गलत जवाब न दें और प्रश्नों को हल करने में ज्यादा वक्त न गवायें. जितने कम समय में सवालों के सही जवाब देंगे आपकी रैंकिंग बेहतर होगी और आप विजेताओं की सूची में शामिल हो सकते हैं. आपको बताना चाहेंगे कि इस क्वेस्ट में कुल तीन चरण में खेलना है. निबंधन के बाद आपको पहला चरण प्रैक्टिस राउंड के रूप में खेलना है, दूसरा चरण और तीसरा चरण फाइनल राउंड के रूप में खेलना है. पर विजेता चुनने में दूसरे राउंड की अहम भूमिका होगी. बता दें कि पिछले वर्ष भी झारखंड से ही सबसे ज्यादा प्रतिभागी इस क्वेस्ट का हिस्सा बने थे और बोकारो के दो शख्स अपनी अपनी कैटेगरी में देशभर में परचम लहराया था. यही वजह है कि नगर विकास ने बड़ी संख्या में पार्टिसिपेशन के लिए प्रदेश के सभी उपायुक्तों, जिला शिक्षा अधीक्षकों, सभी नगर आयुक्तों और कार्यपालक पदाधिकारियों को कई बार पत्र के माध्यम से अधिक से अधिक संख्या में निबंधन सुनिश्चित कराने का आग्रह किया है. यह दूसरी बार होगा जब झारखंड लगातार बड़ी संख्या में खेल प्रतिभागियों को इस क्वेस्ट से जोड़ने में कामयाब होगा. क्वेस्ट से जुड़ कर खेलने के लिए अपने मोबाइल या लैपटॉप पर  खुद को निबंधित कर कोई भी व्यक्ति इस क्वेस्ट में प्रश्नों का जवाब दे सकता है. इसकी अर्हता है कि उस छात्र या व्यक्ति की उम्र कम से कम 10 वर्ष होनी चाहिए. अगर किसी प्रतिभागी को निबंधन में कोई परेशानी आ रही है तो वो जाकर निबंधन प्रक्रिया को समझ सकता है.

इसे भी पढ़ें – जानिए, कैसी होगी होटवार जेल में आईएएस पूजा सिंघल की दिनचर्या

Related Articles

Back to top button