National

राजस्थान में स्वाइन फ्लू से अब तक 100 से ज्यादा मौतें, देश का आंकड़ा 250 पार  

NewDelhi : राजस्थान में स्वाइन फ्लू से अब तक 100 लोगों से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.  तमाम कोशिशों के बावजूद बीमारी काबू में नहीं आ रही है. खबरों के अनुसार एक ही दिन में राजस्थान में एक सौ स्वाइन फ्लू के मामले सामने आये है.  सरकार घर-घर जांच में जुटी है. लेकिन अभी स्वाइन फ्लू की जांच को लेकर परेशानी बढ़ रही है, क़्योकि  पूरे प्रदेश में सिर्फ 12 जगहों पर इसकी जांच होती है. जानकारी के अनुसार अब सरकार जल्द से जल्द और ज़्यादा स्वाइन फ्लू के जांच केंद्र खोलने जा रही है. मौतों के संबंध में उसमें सरकार का कहना है 70 प्रतिशत ऐसे केस हैं जिनमें मरीजों को पहले से कोई और बीमारी भी थी. देश में स्वाइन फ्लू इस साल अब तक 250 से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है.  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार देश भर में राजस्थान में सबसे ज्यादा मौते हुई हैं और गुरुवार तक 2,706 मामले सामने आये हैं. इसके बाद गुजरात में 54 मौतें हुईं और 1,187 मामले सामने आये हैं. पंजाब में इस बीमारी की वजह से 30 लोगों की जान जा चुकी है और 301 मामले सामने आ चुके हैं, महाराष्ट्र में अब तक 13 लोगों की मौत हो चुकी है और 197 मामले सामने आये हैं.

दिल्ली 28 जनवरी तक स्वाइन फ्लू के मामले में राजस्थान और गुजरात के बाद तीसरे स्थान पर था. लेकिन अब स्वाइन फ्लू के 1,406 मामलों के साथ यह दूसरे स्थान पर है. दिल्ली में अब तक छह लोगों की मौत हुई है. हरियाणा और तेलंगाना में क्रमश: स्वाइन फ्लू के 589 और 390 केस दर्ज किये गये हैं और इस बीमारी की वजह से दोनों राज्यों में दो लोगों की मौत हुई है. स्वाइन फ्लू के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों से इस बीमारी के शुरुआती लक्षणों पर निगरानी बढ़ाने को कहा है और इस बीमारी से निपटने के लिए अस्पतालों में बेड रिजर्व रखने को कहा गया है.

स्‍वाइन फ्लू असल में एक वायरस है जो संक्रमण से फैलता है

Catalyst IAS
ram janam hospital

स्‍वाइन फ्लू असल में एक वायरस है जो संक्रमण से फैलता है. यह एक प्रकार एच-1-एन-1 द्वारा संक्रमित इंसान से दूसरे इंसान में फैलता है. यह वायरस बड़ी बहुत तेजी से फैलता है. इस बीमारी के लक्षण मौसमी बुखार के जैसे ही होते हैं, जिसे वायरल बुखार भी कहा जाता है. इसके लक्षणों में खांसी, गले में खराश और शरीर में दर्द शामिल है. यदि आप बीमार हैं या फ्लू जैसे कोई लक्षण हैं, तो घर पर रहें. स्कूल या काम पर न जायें.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : राफेल डील के टीम हेड एयर मार्शल सिन्हा ने द हिंंदू की सिलेक्टिव रिपोर्ट पर निशाना साधा

Related Articles

Back to top button