Main SliderRanchi

मॉनसून सत्रः पहले दिन 2584 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश, पांच अध्यादेश भी सदन पटल पर रखे गये

शोक प्रस्ताव के बाद सदन की कार्यवाही स्थगित

Ranchi: झारखंड विधानसभा का मॉनसून सत्र शुक्रवार से शुरू हुआ है. तीन दिनों के इस सत्र के पहले दिन सरकार की ओर से 2584 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश किया गया. वहीं हेमंत सरकार की ओर से पांच अध्यादेश भी सदन पटल पर रखें गये. हालांकि, जैसी चर्चा थी कि सत्र के पहले दिन लैंड म्यूटेशन बिल लाया जायेगा, लेकिन ऐसा हुआ नहीं. पहले दिन की कार्यवाही में सरकार की ओर से लैंड म्यूटेशन बिल नहीं लाया गया.

हालांकि, सत्र के पहले दिन शोक प्रस्ताव के बाद कार्यवाही को सोमवार तक के लिए स्थगित कर दिया गया. इससे पहले पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, बेरमो से विधायक रहे राजेंद्र सिंह समेत दिवगंत नेताओं को श्रद्धांजलि दी गयी.  बता दें कि शनिवार और रविवार अवकाश रहेगा. अब सोमवार को सदन की कार्यवाही होगी.

इसे भी पढ़ेंः गढवा : जलावन की लकड़ी लेने जंगल गए दंपती की मधुमक्खियों के हमले में मौत

2584 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश

मॉनसून सत्र के पहले दिन हेमंत सरकार की ओर से अनुपूरक बजट पेश किया गया, जो 258405.54 लाख का है. वहीं पांच अध्यादेश भी लाये गये. जिनमें झारखंड माल और सेवा कर (संशोधन) अध्यादेश 2019, झारखंड माल और सेवा कर (कतिपय प्रावधानों में छूट) अध्यादेश 2020, झारखंड मोटर वाहन करारोपण (संशोधन) अध्यादेश 2020, झारखंड मूल्यवर्द्धित कर (संशोधन) अध्यादेश 2020, मिनिरल लैंड अध्यादेश 2020 शामिल है.

कोरोना संक्रमण को लेकर विशेष व्यवस्था

इसके अलावे कार्यमंत्रणा समीति की बैठक हुई, जिसमें यह निर्णय लिया गया कि सत्र के आखिर दिन मंगलवार को दूसरी पाली में राज्य में कोरोना संक्रमण और उसकी स्थिति को लेकर चर्चा की जायेगी.

सोशल डिस्टेंसिंग का खास ख्याल

झारखंड विधानसभा का मॉनसून सत्र कोरोना काल में हो रहा है. ऐसे में खास तरह की तैयारियां भी की गयी है. 82 सदस्यों वाली विधानसभा में 160 सीटों की व्यवस्था की गयी है. यानी विधायकों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का खास ख्याल रखा गया है. हालांकि, पहले दिन की कार्यवाही में 70 विधायक उपस्थित रहे थे.

 

इसे भी पढ़ेंः RIMS की लचर व्यवस्था के लिए प्रबंधन जिम्मेदार- झारखंड हाईकोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button