HEALTHLead NewsNationalTOP SLIDERWorld

मंकीपॉक्स ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी घोषित, WHO के DG ने किया एलान

New Delhi: कोरोना के बाद मंकीपॉक्स के बढ़ रहे मामले दुनिया के लिए एक बार खतरे की घंटी बजा दी है.  ब्रिटेन और यूरोप से शुरू हुए मामले अब भारत समेत कई देशों में मिल रहे हैं. मौजूदा हालात को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी का ऐलान किया है. WHO ने मामले में हो रहे इजाफे को देखते हुए आम लोगों से सतर्क रहने की भी अपील की है.

75 देशों में 16000 से अधिक केस

Sanjeevani

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसुस ने शनिवार को कहा कि वैश्विक मंकीपॉक्स प्रकोप पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी का प्रतिनिधित्व करता है. उन्होंने बताया कि ‘एक महीना पहले मैंने आपातकालीन समिति से इस बात का आकलन करने के लिए कहा था कि कई देशों में फैला मंकीपॉक्स प्रकोप हेल्थ इमरजेंसी है या नहीं.’ उन्होंने कहा कि तब 47 देशों में 3040 मामले सामने आए थे. तब से मंकीपॉक्स संक्रमण में वृद्धि हुई है और अब 75 देशों में 16 हजार से अधिक मामलों और पांच मौतों की पुष्टि की जा चुकी है. प्रकोप को बढ़ता देख मैंने गुरुवार को समिति से नए डेटा को दोबारा देखने और उसके आधार पर मुझे सलाह देने के लिए कहा था.

टेड्रोस ने बताया कि समिति इस बात पर आम सहमति पर नहीं पहुंच पाई कि क्या मंकीपॉक्स को हेल्थ इमरजेंसी है. आज हम जो रिपोर्ट प्रकाशित कर रहे हैं उसमें समिति के सदस्यों ने इसके पक्ष और विपक्ष में कारण बताए हैं. उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएचओ का आकलन है कि दुनियाभर और सभी क्षेत्रों में मंकीपॉक्स का खतरा मध्यम है लेकिन यूरोप में इसका खतरा उच्च है. इसके अंतरराष्ट्रीय रूप से और अधिक फैलने का खतरा स्पष्ट है.

भारत में मंकीपॉक्स के दो केस

बता दें कि केरल में मंकीपॉक्स का दूसरा मरीज मिलने के बाद के केंद्र सरकार पूरी तरह से सतर्क हो गई थी. केंद्र ने एयरपोर्ट-बंदरगाहों पर कड़ी स्क्रीनिंग का दिया निर्देश दिया था, जिससे वक्त रहने मंकीपॉक्स के मरीजों की पहचान कर उनका इलाज किया जा सके. साथ ही इनसे दूसरों में होने वाली बीमारी को रोका जा सके. वहीं राज्य के स्वास्थ्य विभाग (health Department) ने राज्य के सभी पांच हवाई अड्डों पर निगरानी बढ़ा दी थी. दुनिया के 27 देशों में अभी तक मंकीपॉक्स के केस मिल चुके हैं. भारत में अभी तक मंकीपॉक्स के दो केस मिल चुके हैं. और दोनों केरल से है. दूसरे केसे के बारे में केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने बताया कि 31 वर्षीय युवक पिछले सप्ताह दुबई से केरल आया था. बीमारी के लक्षण दिखने पर उसकी जांच की गई तो वह मंकीपॉक्स पॉजिटिव मिला.

Related Articles

Back to top button