न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#MondayShareMarket : #Sensex 1300 अंक उछला, रुपया नौ पैसे कमजोर

46

Mumbai : अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए सरकार की घोषणाओं का असर सोमवार को भी शेयर बाजार में दिखा. शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 1,300 अंक उछलकर 39,000 अंक के स्तर को छू गया. वहीं निफ्टी भी 11,500 अंक के स्तर तक पहुंच गया.

बीएसई का 30 कंपनियों का शेयर सूचकांक सेंसेक्स 39,346.01 अंक के उच्चतम स्तर को छूने के बाद शुरुआती कारोबार में 1,031.58 अंक यानी 2.71 प्रतिशत की बढ़त के साथ 39,046.20 अंक पर चल रहा है. इसी तरह निफ्टी 263.75 अंक यानी 2.23 प्रतिशत की तेजी के साथ 11,537.95 अंक पर चल रहा है.

Trade Friends

इसे भी पढ़ें – #CityManager नियुक्ति प्रक्रिया : न स्थानीयता का हुआ पालन न #EWS को मिला #reservation

शुक्रवार को भी बाजार में थी तेजी

पिछले सत्र के कारोबार में शुक्रवार को सेंसेक्स 38,014.62 अंक और निफ्टी 11,274.20 अंक पर बंद हुआ था. उस दिन सेंसेक्स में 1,921.15 अंक की बढ़त देखी गयी थी,जो पिछले 10 साल में एक दिन में आने वाली सबसे ऊंची तेजी थी.

ब्रोकरों ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के कॉरपोरेट कर की दर में कमी की घोषणा के बाद शुक्रवार को बाजार में तेजी देखी गयी. निवेशकों का लिवाली का रुख सोमवार को भी बना रहा और शुरुआती कारोबार में शेयर बाजार में तेजी दर्ज की गयी. इसी बीच ब्रेंट कच्चा तेल 1.06 प्रतिशत बढ़कर 64.96 डॉलर प्रति बैरल रहा. आरंभिक आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 35.78 करोड़ रुपये की लिवाली की.

इसे भी पढ़ें – #Dhullu तेरे कारण : #BJP नेत्री ने कहा- मेरी मौत का इंतजार कर रहा है जिला प्रशासन

 

शुरुआती कारोबार में रुपया नौ पैसे कमजोर

WH MART 1

वहीं शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले सोमवार को रुपया नौ पैसे टूटकर 71.03 पर खुला. इसकी प्रमुख वजह कच्चे तेल की कीमतों में तेजी होना और अमेरिका-चीन के बीच व्यापार तनाव की चिंताएं बढ़ना है. इसके चलते निवेशकों का रुख सावधानी भरा रहा.

मुद्रा कारोबारियों के अनुसार, बाजार में खबर है कि अमेरिका और चीन व्यापार मुद्दों को लेकर यदि किसी समाधान पर नहीं पहुंचते हैं, तो अमेरिका मौजूदा शुल्क दरों में बढ़ोत्तरी करके चीन पर दबाव बढ़ा सकता है. इसके चलते रुपया दबाव में देखा गया.

शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 70.94 पर बंद हुआ था

हालांकि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की लिवाली और अन्य मुद्राओं के मुकाबले डॉलर के कमजोर रहने से रुपये में यह गिरावट संभली रही. हांगकांग में गुरूवार को एक साक्षात्कार में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चीन नीति के सलाहकार माइकल पिल्सबरी ने कहा था कि यदि किसी समझौते पर नहीं पहुंचा जाता है, तो ट्रंप शुल्क दरों को बढ़ाकर व्यापार युद्ध को खींच सकते हैं.

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया 71.03 पर खुला. यह पिछले बंद के मुकाबले नौ पैसे कमजोर स्थिति है. शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 70.94 पर बंद हुआ था. ब्रेंट कच्चा तेल 1.04 प्रतिशत बढ़कर 64.95 डॉलर प्रति बैरल रहा. इसी बीच आरंभिक आंकड़ों के अनुसार, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 35.78 करोड़ रुपये की लिवाली की.

इसे भी पढ़ें – #JharkhandCongress : एक परिवार से एक ही व्यक्ति लड़ेगा विधानसभा चुनाव! शीर्ष पदों पर बैठे नेताओं को टिकट नहीं  

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like