न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मोहन भागवत का मोदी सरकार पर हमलाः युद्ध नहीं फिर भी सीमा पर शहीद हो रहे हैं जवान

966

Nagpur: आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने गुरुवार को मोदी सरकार पर तीखा हमला किया. नागपुर में प्रहार समाज जागृति संस्था के रजत जयंती कार्यक्रम के अवसर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि कोई युद्ध नहीं हो रहा है फिर भी देश की सीमाओं पर सैनिक शहीद हो रहे हैं. सवाल उठाने के साथ-साथ उन्होंने इसका कारण भी बताया. सरसंघचालक मोहन भागवत ने कहा कि ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि ‘‘हम अपना काम ठीक से नहीं कर रहे हैं.’’

युद्ध नहीं तो शहादत क्यों ?

उन्होंने कहा,‘भारत को आजादी मिलने से पहले देश के लिए जान कुर्बान करने का वक्त था. आजादी के बाद युद्ध के दौरान किसी को सीमा पर जान कुर्बान करनी होती है. लेकिन हमारे देश में मौजूदा वक्त में कोई युद्ध नहीं है. फिर भी देश के जवान शहीद हो रहे है, क्योंकि हम अपना काम ठीक ढंग से नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘ अगर कोई युद्ध नहीं है तो कोई कारण नहीं है कि कोई सैनिक सीमा पर अपनी जान गंवाए. लेकिन ऐसा हो रहा है.’

रोकी जाए सैनिकों की शहादत- भागवत

आरएसएस प्रमुख ने सैनिकों की शहादत पर ना सिर्फ सवाल उठाये, बल्कि इस पर रोक लगाने की जरुरत पर भी बल दिया. उन्होंने कहा कि इसे रोकने और देश को महान बनाने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए.

ज्ञात हो कि कश्मीर में मोदी सरकार का आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन ऑलऑउट जारी है. जिसमें एक ओर जहां आतंकियों का सफाया हो रहा है, वहीं हमारे कई जवान भी इस ऑपरेशन में शहीद हुए हैं. ऐसे में आरएसएस प्रमुख के ये सवाल राजनीतिक गलियारे में गूंज सकते हैं. लोकसभा चुनाव नजदीक है, और मोहन भागवत के सवालों ने कहीं ना कहीं विपक्ष को मोदी सरकार पर हमला बोलने का एक मौका दिया है.

इसे भी पढ़ेंः सुप्रीम कोर्ट का निर्देश, लोकपाल पर फरवरी अंत तक नाम की सिफारिश करे समिति, प्रशांत भूषण को फटकारा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: