न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मोदी के लिए दिखा गजब का जोश, कार्यकर्ता ही नहीं साधारण परिवार के लोग भी उतरे सड़क पर  

1,162

Ranchi: शाम के साढ़े छह बज रहे थे. रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से लेकर बिरसा चौक तक ठसाठस भीड़ थी. मोदी को एक नजर देखने के लिए क्या बच्चे, क्या बूढ़े और क्या महिलाएं, सभी अपने हाथ में मोबाइल लेकर सड़क के किनारे खड़े पीएम नरेंद्र मोदी का इंतजार कर रहे थे. एयरपोर्ट से पीएम मोदी ठीक 6.40 बजे निकले. हवाई अड्डा के पुराने रास्ते से मोदी का काफिल निकला. काफिले में सबसे आगे रघुवर दास अगुआई कर रहे थे. काले रंग के रेंजरोवर गाड़ी में मोदी सफेद कुर्ते में जैसे ही निकले. मोदी-मोदी के नारे के अलावा शायद ही किसी को कुछ सुनाई दे रहा था. अपनी गाड़ी के रूफटॉप से मोदी आधा शरीर निकाले, लोगों का अभिनंदन स्वीकार कर रहे थे. हाथ हिला कर, लोगों की आंखों में आंखें डालने की कोशिश कर अपनी जीत सुनिश्चित कर रहे थे. मोदी को देखने आए लोगों में गजब का जोश दिख रहा था. चुनाव नतीजों से इस रोड शो को जोड़ कर ना देखा जाये तो, साफ तौर से कहा जा सकता है कि मोदी की लहर अब भी थोड़ी बहुत बाकी जरूर है.

देखें वीडियो-

इसे भी पढ़ें – बालूमाथ और मनातू में सीएम रघुवर बोले – झारखंड को झारखंड मुक्ति मोर्चा ने बेचा

अनुमान से ज्यादा आयी भीड़

SMILE

पार्टी ने पूरी तैयारी की थी कि मोदी का रोड शो सुपरहिट हो. लेकिन जिस तरह की भीड़ वहां दिखायी दी, उससे साफ होता है कि यह भीड़ सिर्फ पार्टी की ही तरफ से नहीं बुलायी गयी थी. भीड़ में मौजूद रातू रोड के अंकुश ने कहा कि वो एक बिजनेसमैन हैं और बीजेपी से किसी तरह का कोई नाता रिश्ता नहीं है. फिर भी वो मोदी को सिर्फ देखने के लिए रातू रोड से अकेले चले आए. वहीं भीड़ में ऐसे ढ़ेर सारे लोगों को देखा गया, जिनका पार्टी से दूर-दूर तक कोई नाता-रिश्ता नहीं है. अधेड़ उम्र के कई शख्स अपनी पत्नी और बच्चों के साथ मोदी को देखने के लिए एयरपोर्ट पहुंचे थे. बच्चों की तरफ से जिस तरह के नारे और जिस तरह के जोश के साथ लग रहे थे, उससे उनकी मोदी के प्रति कितना क्रेज है साफ हो रहा था.

इसे भी पढ़ें – पलामू: प्रधानमंत्री को अपदस्थ करने के लिए उद्देश्यों से भटक गयी हैं राजनीतिक पार्टियां: राजनाथ   

उम्मीदवार, पार्टी और पद पर भारी पड़ रहे थे मोदी

जिस तरह की भीड़ मोदी को देखने के लिए आयी थी, उसे देखते हुए कहा सकता है कि मोदी के सामने रांची से बीजेपी के उम्मीदवार संजय सेठ, झारखंड के सीएम रघुवर दास या फिर पार्टी को कोई भी नहीं टिक रहा था. इतना ही नहीं एक पीएम को इस तरह के देखने के लिए आम और साधारण परिवार के लोग सड़क पर इस कदर उतरेंगे, किसी ने सोचा भी नहीं था. भीड़ को संभालने के लिए पुलिस-प्रशासन को खासी मेहनत करनी पड़ी. पब्लिक को रोकने में रांची पुलिस को काफी पसीना बहाना पड़ा. 2.5 किमी का सफर मोदी ने करीब 45 मिनट में पूरा किया. इस बीच मोदी के अलावा दूसरा और कोई नारा नहीं लग रहा था. बिरसा चौक पहुंच कर मोदी ने धरती आबा बिरसा मुंडा का माल्यार्पण किया. उसके बाद उनका काफिला राजभवन की तरफ रवाना हो गया.

इसे भी पढ़ें- पीएम मोदी ने रांची में किया रोड शो, मोदी-मोदी के नारे लगे…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: