न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बंगाल में बोले मोदी- मां, माटी और मानुष का नारा झूठ का पुलिंदा, घुसपैठियों को बचा रही है दीदी  

ममता बनर्जी की बौखलाहट बता रही है कि वह आजकल डरी हुई हैं और इसलिए चैन से सो नहीं पा रही हैं.

64

Kolkata :ममता बनर्जी की बौखलाहट बता रही है कि वह आजकल डरी हुई हैं और इसलिए चैन से सो नहीं पा रही हैं.  ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग के खिलाफ जिस तरह गुस्सा दिखाया, उससे पता चलता है कि वह कितनी घबराई हुई हैं.  दीदी तेजी से राजनीतिक आधार खो रही हैं. पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में एक चुनावी रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह बातें कहीं.  मां, माटी और मानुष को लेकर भी पीएम मोदी ने ममता को घेरा.  पीएम ने कहा कि ममता बनर्जी का यह नारा सिर्फ झूठ का पुलिंदा है.  सच्चाई यह है कि अपने राजनीतिक फायदे के लिए घुसपैठियों को बचाकर दीदी ने माटी के साथ भी विश्वासघात किया है.

पश्चिम बंगाल के लोगों को टीएमसी के गुंडों के हवाले करके उन्होंने मानुष की सारी उम्मीदें भी तोड़ दी हैं और सबका जीवन मुश्किल में डाल दिया है.  नरेंद्र मोदी ने कहा कि एक ओर तो वह मां, माटी और मानुष का नारा देती हैं दूसरी ओर लेकिन वोट बैंक की राजनीति के लिए वह मां को भूल गयीं और भारत के टुकड़े-टुकड़ेका नारा लगाने वाले लोगों के साथ खड़ी हो गयीं.

Trade Friends

इसे भी पढ़ें – नाराज तेजप्रताप का ट्विट – ‘जब नाश मनुज पर छाता है, पहले विवेक मर जाता है’

दीदी को सबक सिखाने के लिए 2019 का लोकसभा चुनाव आया है

पीएम ने ममता बनर्जी को स्पीड ब्रेकर दीदी बताते हुए आरोप लगाया कि उन्होंने केंद्र की योजनाओं पर हर बार ब्रेक लगाने की कोशिश की है.  भीड़ के बीच से मोदी-मोदी के नारे सुनते ही पीएम ने कहा, आप लोग जितना मोदी-मोदी चिल्लाओगे, उनकी नींद नहीं आयेगी. आपको लोगों को पता है किनकी नींद गायब हो जायेगी. दीदी की नींद उड़ रही है और वह गुस्सा अधिकारियों और चुनाव आयोग पर उतार रही हैं. स्पीड ब्रेकर दीदी ने अगर केंद्र सरकार की योजनाओं को रोका नहीं होता, तो आज बहुत सी सुविधाओं का लाभ आपको भी मिलता.

WH MART 1

अब दीदी को सबक सिखाने के लिए 2019 का लोकसभा चुनाव आया है. मोदी ने कहा कि  रैली के लिए सीमित जगह वाला मैदान मुहैया कराया गया ताकि अधिक लोग इसमें शामिल नहीं हो सकें.   पीएम मोदी ने मैदान में  आयी भीड़ को संबोधित करते हुए कहा, दीदी जरा देख लो और दिल्ली में बैठे हुए लोग भी देख लें, ये कैसी लहर चल पड़ी है.

क्या भारत में दो प्रधानमंत्री होने चाहिए?

 मोदी ने कहा, दीदी अब ऐसे लोगों का साथ दे रही हैं जो भारत में दो प्रधानमंत्री चाहते हैं;  क्या भारत में दो प्रधानमंत्री होने चाहिए? लेकिन दीदी ने मोदी विरोध में अपने ऐसे साथियों पर भी चुप्पी साध ली है.  पीएम ने कहा, अगर आप केंद्र में हमें मजबूत करेंगे तो हमारा विश्वास मानिए दीदी आपके विकास के लिए मजबूर हो जायेंगी.  उन्हें झुकना पड़ेगा.  कूचबिहार में भाषण के क्रम में  पीएम के निशाने पर सूबे की सीएम ममता बनर्जी ही रहीं.  पीएम ने ममता को हर मोर्चे पर घेरा.  मोदी ने कहा, दीदी का असली चेहरा दुनिया के सामने लाना जरूरी है. कहा कि  ममता पश्चिम बंगाल की संस्कृति को, यहां के गौरव को, यहां के नागरिकों के जीवन को तबाह करने पर तुली हुई हैं.

पीएम ने जनसभा में अपने अंदाज में लोगों से पूछा, क्या दीदी ने आपको बताया कि यहां के चाय बगानों में शिक्षा और स्वास्थ्य से जुड़ी सुविधाओं को रोकने का काम क्यों किया जा रहा है?  पीएम ने दो टूक कहा कि पश्चिम बंगाल में लेफ्ट के शासन के बाद इस तरह सरकार चलायी जायेगी, इसकी उम्मीद किसी को नहीं थी.  पीएम ने कहा कि उन्हें भी इसकी उम्मीद नहीं थी. 

इसे भी पढ़ें – शहरी मतदाताओं का मूड भाजपा के लिए खतरे की घंटी : एडीआर का सर्वे

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like