न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मोदी राज-2 शुरू : नरेंद्र मोदी ने ली पीएम पद की शपथ, अर्जुन मुंडा बने कैबिनेट मंत्री

दूसरे नंबर पर राजनाथ सिंह और तीसरे नंबर पर अमित शाह ने ली शपथ

800

New Delhi :  आज शाम सात बजे नरेंद्र मोदी ने दूसरी बार पीएम पद की शपथ ली.  प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद ने नरेंद्र मोदी को राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में पीएम पद की शपथ दिलाई. उनके बाद राजनाथ सिंह व अमित शाह ने भी मंत्री पद की शपथ ली. पीएम के अलावा 57 अन्य मंत्रियों ने पद और गोपनीयता की शपथ ली. इनमें 25 कैबिनेट मंत्री, 9 राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार और 24 राज्यमंत्री शामिल हैं. राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में आयोजित होने वाले इस शपथ ग्रहण समारोह में करीब आठ हजार मेहमान शामिल हुए .

एससी-एसटी से 10 मंत्री

इस मंत्रिमंडल में 19 नये चेहरों को जगह मिली है. सहयोगी दलों से चार मंत्री बनाये गये हैं. एसटी-एससी कोटे से 10 मंत्री बनाये गये हैं. यूपी से सबसे ज्यादा 8 मंत्री बनाये गये हैं. मंत्रियों में 5 पूर्व आइएएस हैं. स्मृति ईरानी सबसे कम उम्र की मंत्री हैं. रामविलास पासवान सबसे अधिक उम्र के मंत्री हैं. मंत्रिमंडल में शामिल मंत्रियों की औसत उम्र 60 वर्ष है. मंत्रिमंडल में छह महिला मंत्री हैं.

कैबिनेट मंत्री

राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण, नरेंद्र सिंह तोमर, राम विलास पासवान, हरसिमरत कौर, अर्जुन मुंडा, स्मृति ईरानी, प्रकाश जावड़ेकर, डॉ हषर्वद्धन, एस जयशंकर, पीयुष गोयल, नरेंद्र सिंह तोमर, सदानंद गौड़ा, रमेश पोखरियाल निशंक, धर्मेंद्र प्रधान, थावरचंद गहलोत, मुख्तार अब्बास नकवी, प्रह्लाद जोशी, महेंद्र नाथ पांडेय, अरविंद गणपत सावंत, गिरिराज सिंह, गजेंद्र सिंह शेखावत.

राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार

संतोष कुमार गंगवार, राव इंद्रजीत सिंह, श्रीपाद नाइक, डॉ जीतेंद्र सिंह, किरण रिजिजू, प्रह्लाद पटेल, राज कुमार सिंह, हरदीप सिंह पुरी, मनसुख मंडाविया.

राज्य मंत्री

फगन सिंह कुलस्ते, अश्विनी कुमार चौबे, अर्जुन राम मेघवाल, वीके सिंह, कृष्ण पाल गुर्जर, रावसाहेब दानवे, जी किशन रेड्डी, पुरुषोत्तम लोपाला, रामदास अठावले, साध्वी निरंजन ज्योति, बाबुल सुप्रियो, संजीव कुमार बालियान, संजय धोत्रे, अनुराग ठाकुर, सुरेश अंगाड़ी, नित्यानंद राय, रतन लाल कटारिया, वी मुरलीधरन, रेणुका सिंह, सोम प्रकाश, रामेश्वर तेली, प्रताप षाड़ंगी, कैलाश चौधरी, देबश्री चौधरी.

जयंत और सुदर्शन का पत्ता कटा

झारखंड से केंद्रीय कैबिनेट में सिर्फ अर्जुन मुंडा को ही जगह मिल पायी है. झारखंड के दो पूर्व केंद्रीय मंत्रियों जयंत सिन्हा और सुदर्शन भगत को इस बार जगह नहीं मिल पायी है. कैबिनेट में अभी 22 सीटें खाली हैं. कैबिनेट विस्तार में झारखंड को एक और प्रतिनिधित्व मिल सकता है.

एस जयशंकर के नाम ने चौंकाया

पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर को भी कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. जयशंकर फिलहाल संसद के किसी भी सदन के सदस्य नहीं है. एस जयशंकर के शपथ लेने को जानकार एक बड़ा चौंकानेवाला कदम बता रहे हैं. श्री जयशंकर को विदेश नीति का एक्सपर्ट माना जाता है.

जदयू नहीं हुआ शामिल

मोदी कैबिनेट में जदयू शामिल नहीं हुआ है. सूत्रों के अनुसार जदयू को मात्र एक मंत्री पद दिया जा रहा था. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि वह सरकार में सिर्फ सांकेतिक रूप से शामिल नहीं होना चाहते हैं. इस कारण से सरकार में जदयू का प्रतिनिधित्व नहीं रहेगा. उन्होंने कहा कि हम सरकार में शामिल नहीं हो रहे हैं लेकिन एनडीए में बने रहेंगे.

वर्ष 2014 में मोदी को तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने दक्षेस देशों के प्रमुखों सहित 3500 से अधिक मेहमानों की मौजूदगी में शपथ दिलायी थी.   इससे पहले 1990 में चंद्रशेखर और 1999 में अटल बिहारी वाजपेयी को राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में शपथ दिलायी गई थी.

इसे भी पढ़ें – डीजीपी की पत्नी ने ली जमीन तो खुल गया टीओपी और ट्रैफिक पोस्ट, हो रहा पुलिस के नाम व साइन बोर्ड का इस्तेमाल

शपथ ग्रहण समारोह में बिम्सटेक देशों में बांग्लादेश के राष्ट्रपति अब्दुल हामिद, श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना, नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली, म्यामां के राष्ट्रपति यू विन मिंट और भूटान के प्रधानमंत्री लोताय शेरिंग शामिल  हुए.  थाईलैंड से उसके विशेष दूत जी बूनराच देश का प्रतिनिधित्व करेंगे. भारत के अलावा बिम्सटेक में बांग्लादेश, म्यामां, श्रीलंका, थाईलैंड, नेपाल और भूटान शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें – दिशोम गुरु की हार से मर्माहत नेता, कार्यकर्ता व समर्थक हेमंत को सोशल मीडिया में दे रहे सलाह, नजदीकियों पर साध रहे निशाना

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें.
आप अखबारों को हर दिन 5 रूपये देते हैं. टीवी न्यूज के पैसे देते हैं. हमें हर दिन 1 रूपये और महीने में 30 रूपये देकर हमारी मदद करें.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें.-

you're currently offline

%d bloggers like this: