न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मोदी मंत्र : आतंकवाद और काले घन के खिलाफ एकजुट हो दुनिया

आतंकवाद और वित्तीय अपराध आज दो सबसे बड़े ऐसे खतरे हैं, जिनका पूरा विश्व सामना कर रहा है.

eidbanner
31

NewDelhi : आतंकवाद और वित्तीय अपराध आज दो सबसे बड़े ऐसे खतरे हैं, जिनका पूरा विश्व सामना कर रहा है. जी-20 शिखर सम्मेलन में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दिशा में विश़्व का ध़्यान आकर्षित किया. पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप और जापान के पीएम शिंजो आबे के साथ मिलकर कई महत्वपूर्ण वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की. शुक्रवार से ब्यूनो आयर्स में शुरू  जी-20 समिट में अनौपचारिक बैठक के दौरान मोदी ने इस बात पर बल दिया कि आखिर विश्व को आतंकवाद और वित्तीय अपराधों के खतरे के खिलाफ क्यों एकजुट होना चाहिए. मोदी का इशारा काले धन के खिलाफ था. इस क्रम में मोदी ने कहा, आतंकवाद और कट्टरतावाद दुनिया के लिए एक बड़ा खतरा है. साथ ही  वित्तीय अपराध करने वाले लोग भी बड़ा खतरा हैं.  कहा कि हमें काले धन के खिलाफ एकजुट होकर काम करना होगा.

मोदी ने विश्व के  विकासशील देशों को एकजुट होने को कहा

मोदी ने विश्व के सभी विकासशील देशों को एकजुट होने के लिए कहा. सभी से सामान्य हित की दिशा में काम करने का आग्रह किया.  मोदी के अनुसार सभी को संयुक्त राष्ट्र और अन्य बहुपक्षीय संगठनों के विकासशील देशों के हित के लिए एक आवाज में बात करनी है. यही वजह है कि हम ब्रिक्स के लिए एक साथ आये हैं.  बता दें कि जी-20 समिट में मोदी  चीन के राष्ट्रपति से भी मिले.  प्रधानमंत्री मोदी ने साझा मूल्यों पर जापान और अमेरिका के साथ मिलकर काम जारी रखने पर जोर दिया और इशारा किया कि  तीनों देशों द्वारा  मिलकर काम करने में ही जीत का मंत्र छिपा हुआ है.

Related Posts

भारत से मिलकर काम करना चाहता है पाकिस्तान , इमरान ने की प्रधानमंत्री मोदी से बात

दक्षिण एशिया में शांति, प्रगति और समृद्धि के लिए अपनी इच्छा दोहराते हुए इमरान ने कहा कि वे इन उद्देश्यों को आगे ले जाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी के साथ मिलकर काम करने के प्रति आशान्वित हैं.

इसे भी पढ़ें : नोटबंदी उच्च वर्ग के नहीं, भ्रष्ट लोगों के खिलाफ थी  : नीति आयोग उपाध्यक्ष

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: