JharkhandRanchi

आर्थिक तंगी में पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में वृद्धि कर मुनाफाखोरी कर रही मोदी सरकार: डॉ उरांव

Ranchi : पेट्रोल-डीजल की कीमत में अप्रत्याशित वृद्धि को लेकर सोमवार को प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष सह वित्तमंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने केंद्र की मोदी सरकार को घेरा. उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना जैसे संकटकाल में मोदी सरकार पेट्रोलियम पदार्थों पर लगने वाले केन्द्रीय उत्पाद शुल्क और कीमतों में लगातार वृद्धि कर रही है.

आर्थिक तंगी के दौर से केंद्र ऐसा कर मुनाफाखोरी कर रही है. इससे आम जनता को सिर्फ पीड़ा और परेशानियां ही मिल रही हैं. डॉ उरांव ने यह बात राजभवन के पास हुए धरना प्रदर्शन के दौरान कही. धरना के बाद कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने मोदी सरकार की नीतियों के विरोध में राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन भी रांची डीसी को सौंपा. हालांकि रांची डीसी के अनुपस्थित रहने पर यह ज्ञापन एडीएम लॉ ऑर्डर को सौंपा गया.

इसे भी पढ़ें – एडमिशन अलर्ट : 16 जुलाई तक RTE के तहत नामांकन के लिए करें आवेदन, रांची के 70 स्कूलों में 1005 सीटें

कांग्रेस ने शुरू किया है देशव्यापी आंदोलन

बता दें कि पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्यों में वृद्धि को लेकर कांग्रेस पार्टी ने देशव्यापी आंदोलन शुरू की है. केंद्रीय नेतृत्व के निर्देशानुसार, प्रदेश कांग्रेस ने भी अपना विरोध प्रदर्शन किया. धरना सुबह 10 से 12 बजे तक दिया गया.

इस दौरान पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय, स्वास्थ मंत्री बन्ना गुप्ता, विधायक बन्धु तिर्की, अम्बा प्रसाद, यूथ कांग्रेस अध्यक्ष कुमार गौरव सहित कई कांग्रेसी मौजूद थे. यह धरना मुख्यालय सहित सभी जिला मुख्यालयों में भी आयोजित किया गया.

 

हर मोर्चे पर असफल साबित हो रही है केंद्र की मोदी सरकार

डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमत काफी कम है. फिर भी मोदी सरकार मूल्यों में कमी न कर देशवासियों पर बड़ा बोझ डाल रही है. महंगाई का नारा देकर सत्ता पर आसीन होने वाली बीजेपी लोगों से जबरन वसूली कर रही है. केन्द्र सरकार हर मोर्चे पर असफल साबित हो रही है.

कोरोना का संक्रमण का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है. आंकड़ों के अनुसार, भारत विश्व में चौथे स्थान पर पहुंच गया है. सीमा पर हमारे वीर जवान शहीद हो रहे हैं. वहीं प्रधानमंत्री देश को गुमराह कर रहे हैं. शत्रु देश से मोदी सरकार को पीएम केयर्स फंड में करोड़ों की राशि मिल रही है. उन्होंने कहा कि धरना के माध्यम से कांग्रेस केंद्र से पेट्रोल-डीजल के दामों और उत्पाद शुल्क में हुई बढ़ोतरी को वापस लिये जाने की मांग करती है.

 

जनता की आवाज को सामने लाने का काम कर रही कांग्रेस : सुबोधकांत

पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय ने कहा कि मोदी सरकार गरीबों की जान लेने पर आमदा है. कोरोना संकटकाल में पहले ही लोग त्राहिमाम कर रहे हैं. महंगाई चरम पर है. इसके बावजूद इसके लगातार पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्धि कर महंगाई बढ़ाकर रोजमर्रा की जिंदगी में कठिनाईयां पैदा कर रही है.

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार न तो देश की सीमाएं सुरक्षित रख पा रही है और न ही देश में महंगाई पर नियंत्रण रख पा रही है. कोरोना का संकट भी हर दिन विकराल रूप ले रहा है. ऐसे में एक सजग राजनीतिक विपक्ष के तौर पर कांग्रेस जनता की आवाज को सामने लाने का काम कर रही है.

दुर्भाग्य है कि केंद्र में लोककल्याणकारी की जगह मुनाफाखोरी सरकार सत्ता में बैठी है : बन्ना गुप्ता

स्वास्थ मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि कोरोना संकटकाल में किसान, मजदूर, नौजवान, पहले ही समस्याओं से जुझ रहे हैं. ऊपर से मोदी सरकार लगातार पेट्रोल-डीजल की कीमत में बेतहाशा वृद्धि कर लोगों को दोहरी मार दे रही है.

देश का यह दुर्भाग्य है कि एक ऐसी सरकार आज सत्ताशीन है, जो लोककल्याणकारी न रहकर मुनाफाखोर सरकार साबित हो रही है. उन्होंने कहा कि मंगलवार यानि 30 जून से 4 जुलाई तक प्रदेश के सभी प्रखंड मुख्यालयों में मोदी सरकार की इस तानाशाही रवैये के विरोध में कार्यक्रम आयोजित होगा.

इसे भी पढ़ें –पलामू: फिर निलंबित हुआ एक और ASI, गाड़ी के पेपर के बदले मांगी थी 5 हजार की रिश्वत (देखें वीडियो)

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close