National

मोदी सरकार ने आरिफ मोहम्मद खान को केरल का राज्यपाल नियुक्त किया

NewDelhi : शाह बानो  मामले में  कांग्रेस के स्टैंड के विरोध में राजीव गांधी मंत्रिमंडल से इस्तीफा देने वाले आरिफ मोहम्मद खान को केंद्र सरकार ने केरल का राज्यपाल नियुक्त किया है. जान लें कि यूपी  के बुलंदशहर में जन्मे आरिफ मोहम्मद खान मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों के पैरोकार माने जाते हैं.

इसके अलावा हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल कलराज मिश्रा  राजस्थान के बनाये गये हैं.   मिश्रा के स्थान पर बंडारू दत्तात्रेय को हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया है.  भगत सिंह कोश्यारी महाराष्ट्र के राज्यपाल होंगे.

इसे भी पढ़ें : कोर्ट में दिल्ली पुलिस का बयान, थरूर ने मेहर तरार के साथ बितायी थी रात, मेंटल प्रेशर में थीं सुनंदा 

1986 में संसद में मुस्लिम महिलाओं के हक में आवाज उठाई थी

आरिफ मोहम्मद खान ने 33 साल पहले 1986 में संसद में मुस्लिम महिलाओं के हक में पहली बार आवाज उठाई थी. शाह बानो को न्याय दिलाने के लिए  आरिफ मोहम्मद खान ने  केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था. जान लें कि तीन तलाक बिल पास होने पर उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा था कि  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मौजूदा क़ानून बनाकर उस नुकसान की काफी हद तक क्षतिपूर्ति कर दी है, जो 1986 में हुआ था.

आरिफ मोहम्मद खान  ने कहा आदर्श स्थिति की तरफ तो हम तब बढ़ेंगे जब समान नागरिक संहिता बनाने में सफल होंगे, लेकिन तब तक कम से कम मौजूदा कानूनों में जिन कुरीतियों को संरक्षण मिला हुआ है उनको तो खत्म किया ही जाना ही चाहिए और तीन तलाक को निषिद्ध करने का कानून बनाने का साहस दिखाकर सरकार ने इस दिशा में एक सारगर्भित कदम उठाया है.

इसे भी पढ़ें : कश्मीरी पत्रकार गौहर गिलानी को दिल्ली हवाईअड्डे पर रोका गया, जर्मनी जाने वाले  थे 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: