JharkhandRanchi

मनरेगा कर्मियों की हड़तालः उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था में लगी सरकार

Ranchi. प्रवासी मजदूरों को रोजगार से जोड़ने के लिये सूबे की सरकार ने मनरेगा योजना पर जोर दिया था. मनरेगा के तहत नीलम्बर-पीताम्बर जल समृद्धि योजना, विरसा हरित ग्राम योजना, वीर शहीद पोटो खेल विकास योजना शुरू की गई. लेकिन मनरेगाकर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से ग्रामीण इलाको में रोजगार का संकट दिखने लगा है.

हड़ताल का दूसरा दिन
मनरेगा योजना में रोजगार की उपलब्धता के मामले में भारी कमी दर्ज की जा रही है. हड़ताल से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिय सरकार के स्तर पर वैकल्पिक व्यवस्था किया जा रहा है. मनरेगाकर्मियों के काम न करने की स्थिति को देखते हुये सरकार ने नो वर्क नो पे लागू कर दिया है. राज्य में मनरेगाकर्मी 27 जुलाई से हड़ताल पर हैं.

मनरेगा योजना में रोजगार की स्थिति
मनरेगाकर्मियों के हड़ताल से एक दिन पहले 26 जुलाई को सूबे में 4 लाख 77 हजार 949 मजदूरों को काम मिला था. जबकि हड़ताल के दिन 27 जुलाई को रोजगार की उपब्लधता 26 जुलाई के मुक़ाबले एक लाख सात हजार 555 दर्ज की गई. वहीं, 27 जुलाई को मात्र 3 लाख 70 हजार 394 मजदूरों को ही मनरेगा योजना में काम मिल सका है. जबकि 28 जुलाई को मात्र 3 लाख दो हजार 716 मजदूरों को ही काम मिल सका है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

विकास आयुक्त की अध्यक्षता में होने वाली बैठक स्थगित
मनरेगाकर्मियों की मांगों को लेकर 28 जुलाई को विकास आयुक्त केके खंडेलवाल की अध्यक्षता में होने वाली बैठक स्थगित हो गई है. सरकार के स्तर पर होने वाली बैठक स्थगित होने का कारण स्पष्ट नहीं किया गयया है. इसके साथ ही राज्य में रोजगार संकट बढ़ने के आसार गहरा होता जा रहा है.

The Royal’s
Sanjeevani

सरकार के क्या इंतजाम
सूबे में मनरेगाकर्मियों के हड़ताल पर चले जाने के बाद उत्पन स्थिति को देखते हुये सरकार ने वैकल्पिक व्यवस्था के तहत मनरेगा योजना के क्रिन्वायन पर जोर दिया है. इसके तहत ग्राम रोजगार सेवक के स्थान पर पंचायत सचिव/ जनसेवक/स्वयंसेवक को लगाकर काम लेना तय किया है.

कंप्यूटर ऑपरेटर की आवश्यकता पड़ने पर दैनिक भत्ता पर अस्थाई तौर पर रखा जाना तय किया गया है. हड़ताल के दौरान मनरेगा पदाधिकारी /कर्मी पर नो वर्क नो पे का सिद्धांत लागू कर दिया गया है.

मनरेगा का काम प्रभावित न हो इसके लिए प्रत्येक ग्राम में नोडल SHG की सक्रिय दीदियों को एमआर ले जाने एवं लाने की जिम्मेवारी देना तय किया गया है. एनआरईपी,14वें वित्त आदि के सहायक अभियंता, कनीय अभियंता से मनरेगा में कार्य
कराने के रास्ते निकाले जा रहे हैं.

6 Comments

  1. It is really a nice and useful piece of information. I
    am satisfied that you shared this helpful information with us.
    Please stay us informed like this. Thank you for sharing.
    cheap flights 3gqLYTc

  2. Hello, i believe that i noticed you visited
    my blog thus i came to return the choose?.I’m attempting to in finding issues
    to enhance my website!I suppose its good enough to make use
    of some of your ideas!! cheap flights y2yxvvfw

  3. hi!,I really like your writing very so much! share we communicate
    more about your post on AOL? I require an expert in this area
    to solve my problem. Maybe that is you! Taking a look forward to see you.

  4. I know this if off topic but I’m looking into starting my own weblog and was wondering what all is needed to get set up?
    I’m assuming having a blog like yours would cost a pretty penny?

    I’m not very web smart so I’m not 100% positive. Any suggestions or advice would be greatly appreciated.
    Kudos

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button