JharkhandRanchi

मनरेगा: 50 लाख से अधिक परिवारों को दिए गए जॉब कार्ड में से 21 लाख से अधिक महिलाएं निबंधित

Ranchi: मनरेगा आयुक्त राजेश्वरी बी ने कहा कि महिला मेट एवं लाभार्थियों को सम्मानित किया जा रहा है, यह विभाग के लिये उपलब्धि है. उन्होंने कहा कि पूरे राज्य में 50 लाख से अधिक परिवारों को जॉब कार्ड दिया गया है, उसमें से 21 लाख से अधिक महिलाएं निबंधित है. उन्होंने बताया कि पूरे राज्य में आी तक 4.8 करोड़ मानव दिवस सृजन किया है. सभी उपविकास आयुक्क्तों को निर्देश देते हुए उन्होंने महिलाओं की भागीदारी को और अधिक बढ़ाने की दिशा में काम करने का निर्देश दिया है. दीदी बाड़ी योजना, बिरसा हरित ग्राम योजनाओं में तेजी लाने को कहा है. उन्होंने स्पष्ट कहाहै कि  सरकार की सोच है कि महिलाओं की आजीविका के साधन को बढ़ाया जाये. मनरेगा के अंतर्गत चलने वाली कई योजनाओं से महिलाओं को रोजगार और स्वावलंबन का मार्ग प्रशस्त हुआ है. महिलाएं दीदी बाड़ी योजनाओं में कार्य कर कूप निर्माण एवं अन्य योजना से लाभान्वित होकर अपने परिवार का सहारा बन रही हैं. इससे उनमें एक नया आत्मविश्वास उभर रहा है. उन्हें आर्थिक रूप से स्वावलंबी होने में मदद मिल रही है . उन्होंने सभी डीडीसी को वीडियो कांफ्रेसिंग में कहा कि मनरेगा के काम में जितने भी परिवार को जॉब कार्ड मिला है उन्हें रोजगार उपलब्ध कराना वे सुनिश्चित करें.

महिलाओं की भागीदारी जरूरी

मनरेगा आयुक्त ने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए जरूरी है कि महिलाओं की भागीदारी हर क्षेत्र में बढ़ाई जाए. किसी भी समाज, देश एवं राज्य के विकास में महिलाओं की भागीदारी जरूरी है और ग्रामीण विकास विभाग महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिये कई कार्यक्रम चला रहा है, जिससे उनका आर्थिक एवं सामाजिक उत्थान हो सके. विभाग की ओर से लगातार कई ऐसे कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं जिससे उन्हें स्वरोजगार से जोड़ा जा सके.

इसे भी पढ़ें: प्राइवेटाइजेशन से घट रही नौकरी, स्वरोजगार समय की मांग: सीएम

Sanjeevani

Related Articles

Back to top button