JharkhandRanchiTOP SLIDER

मनरेगा: 51.32 करोड़ की वित्तीय हेराफेरी, रिकवरी का आदेश भी बेअसर, दो फीसदी से भी कम वसूली

केंद्रीय ग्रामीण विकास सचिव पूछेंगे सवाल

Nikhil Kumar

Ranchi : मनरेगा में 51.32 करोड़ की वित्तीय हेराफेरी के उजागार होने के बाद इसकी वसूली न के बराबर हुई है. अधिकारी राशि की रिकवरी में कोई खास दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं. खूंटी में जहां 46.60 लाख की वित्तीय हेराफेरी पकड़ायी थी उसके विरुद्ध महज 1000 रुपये व धनबाद में जहां 288,02,839 रुपये की गड़बड़ी हुई थी, वहां उसके विरुद्ध महज एक हजार रुपये की ही वसूली हो पायी. हालात यह है कि 17 जिले ऐसे हैं जहां या तो 1 फीसदी या 0.1 प्रतिशत तक ही राशि की वसूली अब तक हो सकी है.

इनमें, सरायकेला, पाकुड़, गोड्डा, साहेबगंज, लातेहार, पूर्वी सिंहभूम, दुमका, रामगढ़, चतरा, बोकारो, जामताड़ा, गिरिडीह, कोडरमा, पलामू, प.सिंहभूम, खूंटी, धनबाद जिलों की स्थिति रिकवरी के मामले में स्थिति काफी खराब है. हालांकि गुमला, हजारीबाग और रांची की स्थिति अच्छी है.

advt

इसे भी पढ़ें:प. सिंहभूम में पुलिस और पीएलएफआइ के बीच मुठभेड़, कैंप ध्वस्त, हथियार बरामद

मिली जानकारी के अनुसार राज्य में 51.32 करोड़ की गड़बड़ी के विरुद्ध अभी तक महज 87.59 लाख से कुछ अधिक ही राशि यानी 1.7 फीसदी की ही वसूली हो पायी है. बता दें कि ग्रामीण विकास के सामाजिक अंकेक्षण में जिलों में बड़े पैमाने पर मनरेगा योजनाओं के लिए दी गयी राशि में वित्तीय हेराफेरी का मामला पकड़ाया था.

adv

आपसी मिलीभगत से पैसे की लूट की गयी. न्यूज विंग ने इसे प्रकाशित भी किया था. सदन में भी मामला उठा था. पूरे मामले में कई अधिकारी-कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज हुई है, कुछ निलंबित भी किये गये हैं. विभाग ने राशि वसूली का लक्ष्य रखा था. लेकिन अभी तक न के बराबर ही राशि की वसूली हो पायी है.

इसे भी पढ़ें:मुख्यमंत्री का आदेश : कोयला कंपनियों को आवंटित जमीन का सत्यापन होगा

दो दिन जोर से चला अभियान पर न के बराबर हुई वसूली

केंद्रीय ग्रामीण विकास सचिव झारखंड दौरे पर हैं. केंद्रीय सचिव घाटशिला में योजनाओं के निरीक्षण के बाद मनरेगा सहित ग्रामीण विकास विभाग की अन्य फ्लैगशिप योजनाओं की समीक्षा करेंगे. केंद्रीय सचिव मनरेगा योजना में वित्तीय हेराफेरी मामले में अब तक क्या कार्रवाई हुई, कितनी रिकवरी हई है उसकी भी जानकारी लेंगे.

पूरे मामले में कितने दोषियों पर अब तक क्या कार्रवाई हुई, इसकी जानकारी भी लेंगे. केंद्रीय सचिव के दौरे को देखते हुए ग्रामीण विकास विभाग ने विगत दो दिनों से राशि की रिकवरी के लिए प्रयास तेज किये थे लेकिन इसमें भी नाकामी मिली.

इसे भी पढ़ें:नगर निगम में घंटों चलता रहा रूठने-मनाने का दौर, दो घंटे बाद बैठक स्थगित करने की मेयर ने की घोषणा

3,471 मामले निष्पादित

झारखंड में मनरेगा से जुड़े 92,226 शिकायतें पकड़ में आयीं. जिसमें विभाग ने कार्रवाई के लिए सभी जिलों को निर्देश दिया. अब तक सिर्फ 47,185 एक्शन टेकेन रिपोर्ट 51.29 प्रतिशत ही अपलोड किया जा चुका है. अभी तक 3,471 मामले निष्पादित किये गये हैं.

जिलावित्तीय हेराफेरी की राशिराशि जो रिकवर हुईप्रतिशतदो दिन में रिकवरी
गुमला85,36,13810,49,64212.300.00
हजारीबाग2,42,75,90322,88,4219.40.00
रांची2,17,62,90515,83,8917.300.00
सिमडेगा25,95,3481,26,0854.900.00
लोहरदगा18,60,05577.2464.20.00
गढ्वा5,93,14,20115,19,0602.600.00
सरायकेला52,99,18590.3921.712080.00
पाकुड़1,66,85,3381,94,5101.21172.00
गोड्डा2,88,20,5202,68,6360.923907.00
साहेबगंज2,87,01,4552,68,6360.923907.00
लातेहार1,49,25,3501,16,1220.80.00
पूर्वी सिंहभूम40,81,92424,7660.60.00
दुमका2.36,39,8181,00,7340.40.00
रामगढ़4,93,64,5321,89,1210.40.00
चतरा1,46,21,21449,9940.10.00
बोकारो1,28,69,05728,3900.20.00
जामताड़ा1,04,64,56114,1140.112956.00
गिरिडीह4,03,12,91541,9940.10.00
कोडरमा61,32,9256,0980.10.00
पलामू6,37,03,91045,1330.10.00
प.सिंहभूम3,13,72,16720,1300.10.00
खूंटी46,60,00310000.00.00
धनबाद2,88,02,8391,0000.000
कुल:51,32,42,65887,59,2171.7 प्रतिशत22219.00

इसे भी पढ़ें:IIM Ranchi : 10 सालों में नहीं मिली एक फूटी कौड़ी, अब 130 करोड़ का हिसाब मांग रही है सरकार

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: