JamtaraJharkhand

रांची में बोले MLA इरफान अंसारी- अल्पसंख्यकों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने के लिए सीएम से विशेष सत्र बुलाने की मांग करूंगा

Jamtara : कांग्रेस प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष सह जामताड़ा विधायक डॉ इरफान अंसारी शुक्रवार को रांची स्थित कांटाटोली पहुंचे. वहां उन्होंने मुस्लिम समुदाय के सम्मेलन में शिरकत की. सम्मेलन में राज्य के विभिन्न जिलों से आये मुस्लिम समाज के लोगों ने समाज के पिछड़ेपन पर चर्चा की.

कार्यक्रम में जमीअतुल कुरैश सहित विभिन्न मुस्लिम संगठनों की उपस्थिति रही. कार्यक्रम में मुस्लिम समाज की समस्याओं पर लंबी चर्चा हुई. सभी संगठनों ने अपनी-अपनी बातों को विस्तारपूर्वक विधायक के समक्ष रखा. उपस्थित समाज के नुमाइंदों ने कहा कि राज्य में हेमंत सोरेन सरकार के गठन से सभी बहुत उत्साहित हैं, लेकिन सरकार द्वारा अनदेखी होने से उनमें काफी निराशा भी है.

इसे भी पढ़ें- सीएम ने BIT सिंदरी को IIT की तरह विकसित करने का दिया निर्देश

मोदी राज में मुसलमान दूसरे दर्जे की नागरिकता की स्थिति में

मौके पर विधायक डॉ इरफान अंसारी ने कहा, “इस राज्य में अल्पसंख्यक समाज सबसे पिछड़ा वर्ग है और सबसे निचले पायदान पर खड़ा है. इस समाज पर विशेष तौर पर ध्यान देने की आवश्यकता है. मोदी राज में अब मुसलमान लगभग दूसरे दर्जे की नागरिकता की स्थिति में पहुंच चुका है. आपलोगों ने भारी मतों से हेमंत सोरेन को जीत दिलाकर सत्ता में भेजा है, ताकि आपको अपना विशेष अधिकार मिल सके. सरकार गठन में आपकी भागीदारी को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता.”

इसे भी पढ़ें- डीएमएफटी की राशि नहीं हो रही खर्च

भाजपा और आरएसएस से डरने की जरूरत नहीं

उन्होंने कहा, “अभी कुछ दिन पहले आपने देखा होगा कि मैंने सरकार के समक्ष अल्पसंख्यकों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण की मांग रखी थी, लेकिन किसी भी विधायक ने मेरी मांग पर मेरा समर्थन नहीं किया और न ही पक्ष में कोई बयान आया. बड़ा ही आश्चर्य होता है कि आपका ही वोट लेकर ये लोग सत्ता में आते हैं और फिर अपनी जवाबदेही से पीछे हट जाते हैं. लेकिन, आपलोगों को घबराने की जरूरत नहीं है. जब तक इरफान अंसारी मौजूद है, आपकी बातों को बड़ी ही मुस्तैदी से सरकार के समक्ष रखा जायेगा. मैं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से अल्पसंख्यकों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने के लिए झारखंड विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग करूंगा.” विधायक ने कहा, “भाजपा और आरएसएस से डरने की जरूरत नहीं है. ये लोग आपका कुछ नहीं बिगाड़ सकते. कोई भी पदाधिकारी अगर गलत करता हो, तो आप मुझे जरूर बतायें. मैं गलत होते कभी नहीं देख सकता. आपलोग जिस सम्मान के हकदार हैं, वह आपको जरूर मिलना चाहिए.”

इसे भी पढ़ें- मेडिको सिटी में साढ़े तीन सौ करोड़ में बनेगा मेडिकल कॉलेज व हॉस्पिटल, 85 फीसदी सीटें झारखंडी छात्रों के लिए होंगी रिजर्व : हेमंत

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: