JharkhandRanchiTOP SLIDER

विधायक खरीद-फरोख्त मामलाः रांची पुलिस की टीम जांच करने दिल्ली रवाना

Ranchi : झारखंड में कथित तौर पर विधायक खरीद-फरोख्त के मामेल में रांची पुलिस ने जांच तेज कर दी है. झारखंड में सरकार गिराने की साजिश मामले में पुलिस ने पूरे मामले की जांच के लिए 4 टीमें बनायी हैं. जिसमें से एक टीम जांच करने के लिए दिल्ली भी रवाना हो गयी है. जानकारी के अनुसार सरकार गिराने की साजिश मामले में रांची के एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने 4 टीमों का गठन किया है. एक टीम का नेतृत्व खलारी के डीएसपी अनिमेष नैथानी कर रहे हैं.

दिल्ली में यह टीम उन होटलों से साक्ष्य जुटायेगी जहां विधायक ठहरे थे और महाराष्ट्र के कथित नेताओं से मुलाकात हुई थी. जानकारी के अनुसार पुलिस उन जगहों का सीसीटीवी फुटेज और होटल का रिकॉर्ड भी खंगालेगी.

इसे भी पढ़ें :स्कूलों और आंगनबाड़ी में साफ पानी देने में नीतीश- योगी आगे, दीदी और हेमंत सोरेन फिसड्डी

एसएसपी ने डीएसपी प्रभात रंजन बरवार को पूरे मामले की जांच का आइओ बनाया है. डीएसपी प्रभात रंजन के अलावे अलग-अलग डीएसपी इस मामले की तफ्तीश में जुटे हैं.

साइबर डीएसपी यशोधरा भी जांच के लिए बनायी गयी एक टीम का नेतृत्व कर रही हैं. साइबर डीएसपी इस मामले में सभी फोन कॉल तथा अन्य तथ्यों को जुटाने में लगी हैं. साइबर डीएसपी ने इस मामले की जांच शुरू भी कर दी है. सबसे पहले उन फोन नंबरों के रिकॉर्ड खंगाले जा रहे हैं जिनका जिक्र गिरफ्तार किये गये आरोपियों ने किया है.

रांची पुलिस ने 22 जुलाई की रात को 3 लोगों को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने बताया था कि गिरफ्तार आरोपियों के पास से 2 लाख रुपये बरामद किये गये हैं. पुलिस ने तीनों पर सरकार गिराने की साजिश का आरोप लगाया था.

इसे भी पढ़ें :टोक्यो ओलिंपिक :  भारतीय महिला हॉकी टीम को लगातार दूसरी हार का मुंह देखना पड़ा

रविवार को कांग्रेस के कोलेबिरा विधायक नमन विक्सल कोंगाड़ी ने कहा कि उन्हें मंत्री पद के साथ मोटी रकम का ऑफर देने का मामला सामने आया. इसके बाद से झारखंड की राजनीति पूरी तरह से गर्म हो गयी है.

हाल में दिल्ली गये पार्टी के कुछ विधायकों पर भी संदेह के बादल मंडराने लगे हैं. कहा जा रहा है कि उमाशंकर अकेला, डॉ इरफान अंसारी और अन्य विधायक भी दिल्ली गये थे.

इधर, सरकार गिराने के आरोप में जिन तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनमें से एक आरोपी अभिषेक दुबे ने पूरे मामले पर अपना कबूलनामा पुलिस को दिया है. कुछ दिनों पहले कांग्रेस के विधायकों के दिल्ली जाने का मामला भी तूल पकड़ता जा रहा है.

इसे भी पढ़ें :असम-मिजोरम बॉर्डर पर पत्थरबाजी-फायरिंग, आपस में भिड़े दोनों राज्यों के CM, देखें VIDEO

Related Articles

Back to top button