DhanbadKhas-Khabar

कभी एस्कॉर्ट लेकर चलनेवाले विधायक ढुल्लू महतो आज बगैर बॉडीगार्ड के गुपचुप तरीके से हुए फरार

विज्ञापन

Dhanbad: कभी एस्कॉर्ट लेकर चलने वाले बाघमारा विधायक ढुल्लू महतो बुधवार को बिना बॉडीगार्ड के ही फरार हो गये. पुलिस ने बाघमारा विधायक के घर की तलाशी ली तो वे कहीं नहीं मिले. जबकि उनके गार्ड और उनकी फॉरच्यूनर गाड़ी कैंपस के अंदर ही है.

हमारे सूत्रों का कहना है कि पुलिस दबिश की भनक लगते ही विधायक जी घर से गुपचुप तरीके से निकल लिये. रामराज मंदिर में इन दिनों मेला लगा हुआ है. बता दें कि ये वहीं मंदिर है, जिसकी जमीन को लेकर विधायक महतो पर आरोप है. रामराज मंदिर और विधायक ढुल्लू महतो का आवास बिल्कुल आसपास है.

इसे भी पढ़ेंः#SAIL नहीं अब Coal India करेगा बोकारो पर्वतपुर कोल ब्लॉक का संचालन, PMO ने साफ किया रास्ता

चिटाही में बना रामराज मंदिर, विधायक ढुल्लू महतो पर जमीन हड़प कर मंदिर बनवाने का है आरोप

मंदिर के पास रंग-बिरंगी दुकानें लगी हुई हैं. कल तक इन दुकानदारों ने भी विधायक को पूजा-पाठ करने के लिए घर से निकलते हुए देखा था, लेकिन आज विधायक कहां और कैसे घर से निकल गये, इसकी भनक किसी को नहीं मिली.

मालूम हो कि ग्रामीणों की जमीन हड़पकर रामराज मंदिर बनवाने के आरोप में पुलिस ढुल्लू महतो को गिरफ्तार करने पहुंची थी. लेकिन विधायक घर पर नहीं मिले और पुलिस को बैरंग लौटना पड़ा.

रात से ही जुटने लगी थी पुलिसवालों की भीड़

बताया जाता है कि मंगलवार की देर रात से ही विधायक के घर के बाहर पुलिस वालों की भीड़ जुटने लगी थी. बुधवार की सुबह कतरास के पंचगढ़ी मोहल्ले से विधायक के करीबी धर्मेंद्र गुप्ता सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया था.

हालांकि धर्मेंद्र की गिरफ्तारी बोकारो रेलवे स्टेशन पर भाजपा नेता विनय सिंह पर हुए जानलेवा हमले के मामले में हुई. लेकिन धर्मेंद्र की गिरफ्तारी के साथ ही विधायक ढुल्लू महतो को यह भनक लग गयी कि अब उनकी गिरफ्तारी भी किसी भी वक्त हो सकती है. ऐसे में विधायक ने गुपचुप तरीके से घर से भाग जाना ही उचित समझा.

इसे भी पढ़ेंःरांची विवि ने बीएड रजिस्ट्रेशन फीस रखी 100 रुपये, प्राइवेट B.Ed कॉलेज वसूल रहे 500 से 2500 रुपये 

बेकसूर हैं ढुल्लू, उन्हें फंसाने की साजिश: सावित्री देवी

इस मामले में विधायक की धर्मपत्नी सावित्री देवी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि राज्य सरकार के इशारे पर उनके पति को परेशान करने का काम किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि विधायक जी बेकसूर हैं और उन्हें एक साजिश के तहत फंसाया जा रहा है.

उन्होंने बताया कि बिना सर्च वारंट के पुलिस उनके आवास में घुस रही थी. जिसका स्थानीय महिलाओं ने झाड़ू लेकर विरोध किया. बाघमारा विधायक की पत्नी ने जानकारी दी कि तबीयत खराब होने की वजह से ढुल्लू महतो बाहर इलाज करवाने के लिए गये हैं.

इसे भी पढ़ेंः20 सालों में भी नहीं मिल सके 24 जिला खेल पदाधिकारी, मिशन ओलंपिक की डगर कठिन

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close