GarhwaGoddaJharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

विधायक भानु प्रताप ने डॉ इरफान अंसारी को बताया झोलाछाप, कहा- मानसिक स्थिति ठीक नहीं कांके में इलाज कराने की जरूरत

भानु बोले, PM Modi के खिलाफ अभद्र बोलने वाले को मिलेगा करारा जवाब

Ranchi :  भवनाथपुर विधायक भानु प्रताप शाही गोड्डा विधायक डॉ इरफान अंसारी पर फायर हैं. सोमवार को झारखंड विधानसभा के स्थापना दिवस कार्यक्रम में इरफान को झोलाछाप डॉक्टर कहा.उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कृषि कानून पर विरोध या सहमति अपनी जगह है. पर इसे लेकर देश के प्रधानमंत्री, उनके पार्टी के शीर्ष नेता और विश्व भर में सबसे लोकप्रिय राजनेता नरेंद्र मोदी के बारे में कुछ भी अभद्र बात कहा जाना स्वीकार्य नहीं होगा. इस पर कड़ा जवाब तो मिलेगा.

उन्होंने कहा कि जिस तरह से इरफान ने पीएम के साथ-साथ उनके और उनके पिता के बारे में अनर्गल बात कही है, इससे पता लगता है कि उनकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं.

advt

इसे भी पढ़ें :केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे बोले, चतरा, गोड्डा और दुमका में बनने वाले गोदामों से 30 हजार MT तक बढ़ेगी स्टोरेज कैपेसिटी

कांके में एडमिट कराने में करूंगा मदद

भानु ने कहा कि वे पूर्व में स्वास्थ्य मंत्री रहे हैं. अपने क्षेत्र तथा राज्य के अन्य हिस्सों में कई जगहों पर कई कार्य कराये हैं. जिस तरह के बयान इरफान दे रहे हैं, उन्हें अगर जरूरत होगी तो उनके इलाज के लिये वे कांके में एडमिट कराये जाने में मदद को तैयार हैं. इरफान उनसे संपर्क करें.

इसे भी पढ़ें :अतिक्रमण करने वाले चार लोगों के खिलाफ निगम ने दर्ज कराई FIR

जेटेट से भोजपुरी, मगही, मैथिली और अंगिका हटाने का किया विरोध

सीएम हेमंत सरकार पर भी नाराजगी जाहिर करते हुए भानु ने कहा कि जेटेट से भोजपुरी, मगही, मैथिली और अंगिका जैसी भाषाओं को हटाकर उन्होंने ठीक नहीं किया है. यह राज्य में बड़े पैमाने पर बोली समझी जाने वाली भाषा है. इन भाषाओं के मामले में हेमंत सरकार ने भेदभाव कर अपनी ओछी मानसिकता का परिचय दिया है.

इसे भी पढ़ें :ये जनाब हैं आधुनिक शाहजहां, पत्नी को तोहफे में दिया ताजमहल जैसा घर, बनाने में लगे 3 साल, जानें क्या हैं खास बातें  

इरफान ने की थी पीएम को फांसी देने की मांग

गौरतलब है कि पिछले दिनों पीएम नरेंद्र मोदी ने 3 कृषि कानूनों को वापस लिये जाने का भरोसा दिलाया था. इस पर इरफान ने इसे किसानों की जीत के साथ साथ पीएम को फांसी दिये जाने की मांग की थी.

इस पर पूर्व मंत्री और विधायक भानू प्रताप ने ट्विटर पर इरफान को नालायक, बदजुबान कहा था. साथ ही उन्हें पाकिस्तान परस्त आइएसआइ स्लीपर सेल का एजेंट भी कहा था. भानु के ऐसा कहे जाने पर इरफान ने भानु प्रताप शाही को दागी, कमीशनखोर बताया. कहा कि भाजपा में जाने से इनका दामन साफ नहीं होने वाला. स्वास्थ्य विभाग का पैसा लूट कर गरीबों का खून पीने वाला भानु आज बड़ी बात करता है.

इसे भी पढ़ें :डॉक्टर साहब आपकी बीवी मुझे बहुत पसंद है तलाक दे दो, गैंगस्टर ने दी धमकी, एक अपराधी की हो गयी हत्या

भानु के पिता से मिले इरफान

वैसे एक दिलचस्प नजारा सोमवार को तब दिखा जब इरफान ने पूर्व मंत्री और भानू के पिता हेमेंद्र प्रताप देहाती से भेंट की. यह पूछे जाने पर कि आप और भानु एक दूसरे के खिलाफ ऐसी बयानबाजी क्यों करते हैं ? तो इरफान ने कहा कि वे अपने से बडों का सम्मान करते हैं. भानु शाही अपने पिता का सम्मान नहीं करते हैं तो ये उनकी बड़ी गलती है.

इसे भी पढ़ें :GOOD NEWS : अब रेलवे गार्ड कहलाएंगे ट्रेन मैनेजर, पद नाम बदलने की लंबित मांग हुई मंजूर

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: