JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

भारत बंदः झारखंड Live: कई जगहों पर सड़क जाम, मंत्री भी उतरे सड़क पर

  • राजधानी रांची में बाजार बंद, सड़क पर उतरे कांग्रेस व झामुमो कार्यकर्ता

Ranchi: कृषि बिल के खिलाफ आंदोलनकारी किसानों की ओर से आहूत भारत बंद का दोपहर 12 बजे तक झारखंड के शहरी इलाकों में मिलाजुला असर देखने को मिल रहा है, जबकि ग्रामीण इलाकों में बंद पूरी तरह से प्रभावी है. सड़क यातायात व बाजार बंद है. झामुमो व कांग्रेस के कार्यकर्ता सड़क पर उतरे हैं.

राजधानी रांची का हाल

Catalyst IAS
ram janam hospital

राजधानी रांची में कचहरी रोड, रातू रोड, मैन रोड में दुकानें बंद देखी जा रही हैं. सड़कों पर ट्रैफिक का बोझ कम है. लंबी दूरी की गाड़ियां नहीं चल रही हैं.  राज्य के कृषि मंत्री बादल भी रांची में बंद के  समर्थन मे उतरे. उन्होंने सुबह सात बजे से ही दुकानदारों के पास जाकर बंद को समर्थन देने की अपील की. बंद का आह्वान अखिल भारतीय किसान सभा के बैनर तले किया गया है. सभा ने पहले ही नेशनल और स्टेट हाइवे जाम करने की बात की थी.

The Royal’s
Sanjeevani

अब तक मिली जानकारी के अनुसार रांची टाटा रोड, गुमला सिमडेगा हाइवे में किसानों ने जाम किया है. हालांकि ऑल इंडिया ट्रक एसोसिएशन और ऑनल इंडिया हाइवे वर्कर्स यूनियन ने इसका समर्थन किया है.

जिससे हाइवे पर बंद का असर देखा जा रहा है. शहर के खादगड़ा बस स्टेंड से बसों का परिचालन नहीं हो रहा है. हालांकि, शहर में ऑटो का परिचालन हो रहा है, लेकिन कम संख्या में.

राजधानी रांची में डेली मार्केट इलेक्ट्रॉनिक्स एसोसिएशन, फल मंडी विक्रेता संघ, डेली मार्केट टेड्रर एसोसिएशन समेत अन्य संघों ने दुकानें बंद रखी है. कांके में बंद समर्थकों ने सड़क जाम किया.

बता दें राष्ट्रीय स्तर पर अखिल भारतीय किसान संघर्ष समिति की ओर से की जा रही है. जिसे पांच सौ संगठनों का समर्थन है. वहीं राज्य में आंदोलन की रूप रेखा झारखंड राज्य किसान सभा की ओर से की जा रही है.

इसे भी पढ़ें : 31 दिसंबर 2020 तक पेटीएम से LPG Cylinder बुक कर पायें 500 रुपये का कैशबैक

जिलों में बंद की स्थिति

पलामू में बंद के समर्थन में लोगों ने सड़क जाम किया. धनबाद में सड़क पर टायर जलाकर प्रदर्शन किया जा रहा है. इसी तरह राज्य के अन्य जिलों में भी प्रदर्शन हो रहे हैं.

हजारीबाग शहर के डिस्ट्रिक्ट बोर्ड चौक में विपक्षी राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं ने चक्का जाम कर दिया है. राजनीतिक दलों के अलावा सरना समिति और आदिवासी युवा भी सड़क पर उतरे हैं. हजारीबाग रेलवे स्टेशन के पास राष्ट्रीय सरना समिति के अध्यक्ष महेंद्र सिंह के नेतृत्व में बंद समर्थकों ने चक्का जाम कर दिया है. उपराजधानी दुमका में भी कांग्रेस और जेएमएम के कार्यकर्ता बंद के समर्थन में सड़क पर उतरे. संथालपरगना के विभिन्न जिलों साहेबगंज, जामताड़ा, गोड्डा, देवघर और पाकुड़ जिलों में भी भारत बंद का मिलाजुला असर देखने को मिल रहा है. पाकुड़ जिले में भी बंद का खासा असर देखने को मिला.

कई राजनीतिक दलों ने किया है समर्थन

किसानों के आंदोलन को राजनीतिक दलों का समर्थन मिला है. इसमें जेएमएम, कांग्रेस, राजद , वामदल समेत अन्य संगठनों ने समर्थन दिया है. राजधानी रांची समेत राज्य के विभन्न जिलों में राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता बंद के समर्थन में सड़क पर उतरे हैं. सड़क पर उतरने वालों में कांग्रेस व झामुमो के कार्यकर्ताओं की संख्या अधिक देखी जा रही है.

तीन बजे तक बंद का रह सकता है प्रभाव

बंद समर्थकों से मिली जानकारी के अनुसार ग्यारह से तीन बजे तक बंद प्रभावी रहेगा. बंद समर्थकों ने फैसला लिया है कि इस दौरान आवश्यक सेवाओं को बाधित नहीं किया जाएगा. मसलन-एंबुलेंस को नहीं रोका जाएगा. शादी के लिए जा रहे दुल्हे या बरात को नहीं रोका जाएगा।

इसे भी पढ़ें : किसानों के बंद को लेकर कंगना रनौत ने किया ट्वीट, सोशल मीडिया में समर्थन और विरोध में उतरे लोग

Related Articles

Back to top button