JharkhandJharkhand PoliticsLead NewsRanchi

मिशन 2024 में 7 पर नहीं बनेगी बात, यूपीए से भी राजद कर सकता है दो-दो हाथ

Ranchi: बिहार में विपक्षी दल के नेता तेजस्वी यादव दो दिवसीय दौरे पर रांची आये हैं. प्रदेश राजद (राष्ट्रीय जनता दल) के साथ 19 सितंबर को बैठेंगे. आगे बढ़ने का गुरु मंत्र देंगे. पार्टी भी गदगद है. प्रदेश नेतृत्व का मूड मिजाज अब ‘हरियर’ हो रहा है. उसे लगता है कि तेजस्वी की अगुवाई में पार्टी अब झारखंड में अपना कारवां आगे बढ़ाने में कामयाब होगी.

भले 2019 के विधानसभा चुनाव में पार्टी 7 सीटों पर ही चुनाव लड़ने को मैदान में यूपीए के साथ मिलकर उतरी. पर मिशन 2024 में इतने से ही वह नहीं मानने वाली.

पार्टी मौके के हिसाब से 81 सीटों पर चुनाव लड़ने का जुगाड़ भिड़ा रही है. हालांकि बहुत कुछ चुनाव के समय यूपीए के फॉर्मूले पर भी डिपेंड करेगा पर राजद अपनी मंशा दिखा रहा है कि अगली दफा वह 7 सीटों से संतोष नहीं करने वाला.

advt

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने दिया इस्तीफा

सीटों पर समझौता नहीं

प्रदेश राजद महासचिव और पूर्व विधायक संजय यादव ने न्यूज विंग से कहा कि पिछले चुनाव में पार्टी को यूपीए गठबंदन में सात सीटें ही मिली थीं. इसमें से एक सीट पर जीतकर सत्यानंद भोक्ता हेमंत सरकार में मंत्री भी बने. बाकी 6 पर पार्टी दूसरे स्थान पर रही थी.

पर 2024 में इसी फॉर्मूले पर बात होगी, कहना मुश्किल है. चूंकि 2019 के समय भाजपा सरकार को किसी भी हाल में सत्ता से बाहर करना था, ऐसे में पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने सात सीटों पर ही हामी भर दी. पर अब तस्वीर दूसरी है. पार्टी का हाल के समय में संगठन मजबूत हुआ है.

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : BJP का दामन छोड़ दीदी का पल्लू पकड़ा पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने

अलग-अलग जिलों में उसकी जो तैयारी है, उससे यह तय है कि अगले चुनाव में 7 सीटों तक ही पार्टी सीमित नहीं रहेगी. हमारी तैयारी 81 सीटों के हिसाब से है. आने वाले पंचायत चुनाव, निकाय चुनावों के हिसाब से भी पार्टी की तैयारी बनी हुई है.

पार्टी के ऊर्जावान और युवा नेता तेजस्वी यादव ने झारखंड को खास अहमियत दी है. हर महीने तीसरे शनिवार को दो दिनों का प्रवास कार्यक्रम इसी का हिस्सा है. पार्टी और संगठन को मजबूत किये जाने में उनका मार्गदर्शन कीमती साबित होगा. पार्टी का दायरा भी राज्य में बड़ा होना तय है.

इसे भी पढ़ें :एक्टर सोनू सूद और सहयोगियों ने 20 करोड़ रुपये से अधिक का टैक्स किया चोरी

बोर्ड, निगम के जरिये दिखायी अपनी मंशा

प्रदेश राजद ने बोर्ड, आयोग, निगम और 20 सूत्री के गठन के मसले पर राज्य सरकार के पास अपनी मंशा जता दी है. प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह के मुताबिक इसमें राजद को उचित भागीदारी मिलनी चाहिये.

राज्य के 6 जिले और 29 ब्लॉक में 20 सूत्री के प्रमुख के तौर पर राजद को हिस्सा मिले. 20 सूत्री अध्यक्ष पद के लिये पलामू, चतरा, कोडरमा, हजारीबाग, देवघर और गोड्डा जिला उसकी पसंद हैं. यहां पार्टी के समर्थकों, कार्यकर्ताओं की बड़ी फौज भी है.

इसके अलावे प्रखंड स्तर पर राज्य के सात विधानसभा क्षेत्रों के 29 प्रखंडों में भी अध्यक्ष का पद मिले. इनमें छत्तरपुर विधानसभा के 4, हुसैनाबाद, चतरा, कोडरमा विधानसभा के 5-5 ब्लॉक शामिल हैं. साथ ही बरकट्ठा, देवघर और गोड्डा विधानसभा के 3-3 ब्लॉक में राजद की दावेदारी बनती है.

इसे भी पढ़ें :Latehar: करम विसर्जन करने गयीं 7 लड़कियों की गड्ढे में डूबकर मौत

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: