न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नाबालिग की शादी में शामिल होना पड़ा महंगा, छतरपुर नप के उपाध्यक्ष गिरफ्तार

अध्यक्ष की तलाश तेज

48

Palamu : छतरपुर थाना क्षेत्र के सड़मा गांव में पिछले महीने एक नाबालिग लड़की की शादी में शामिल होना नगर पंचायत अध्यक्ष मोहन जायसवाल और उपाध्यक्ष सुभाष मिश्रा उर्फ बुल बाबा को काफी महंगा पड़ा. कुछ दिन पूर्व इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद मंगलवार को पुलिस की ओर से की गयी कार्रवाई में उपाध्यक्ष बुल बाबा को गिरफ्तार किया गया, जबकि अध्यक्ष की गिरफ्तारी के लिए कार्रवाई की जा रही है. विदित हो कि इस मामले में नाबालिग लड़की से शादी करने के आरोप में लड़की के पति को पुलिस गिरफ्तार कर पहले ही जेल भेज चुकी है.

अध्यक्ष की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी कर रही है

पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा ने बताया कि गत 25 अक्टूबर को छतरपुर के सड़मा निवासी कृष्णा भुईयां की नाबालिग पुत्री की शादी में नगर पंचायत अध्यक्ष-उपाध्यक्ष सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे. समारोह में उपस्थित रहने के बावजूद अध्यक्ष-उपाध्यक्ष ने शादी नहीं रोकी थी. इस संबंध में छत्तरपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज की गयी थी, जिसके अधार पर नगर पंचायत उपाध्यक्ष सुभाष मिश्रा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है और अध्यक्ष मोहन जायसवाल की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी कर रही है. वे जल्द ही पुलिस के गिरफ्त में होंगे. उन्होंने कहा कि नाबालिग की शादी कराना या शादी समारोह में शामिल होना अपराध है. इसी के तहत नगर पंचायत अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के तहत कार्रवाई की गयी है.

स्कूल सार्टिफिकेट के अनुसार बालिग है लड़की

राजकीय उत्क्रमित मध्यविद्यालय सड़मा के प्राचार्य रमेश प्रसाद यादव ने बताया कि दौलती कुमारी का रजिस्टर बही के अनुसार उसकी जन्म तिथि 15.10.2000 है. स्कूल में दाखिल होने के दिन उसकी उम्र सात वर्ष 06 महीना 15 दिन था. स्कूल के रजिस्टर बही के अनुसार 25 अक्टूबर को शादी के दिन उक्त लड़की उम्र 18 वर्ष 10 दिन की हो गयी थी. इससे दौलती कुमारी बालिग है, लेकिन न जाने किस कारण बस पुलिस ने उसे नाबालिग ठहरा कर शादी में शामिल होने वाले जनप्रतिनिधियों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: