Jharkhand StoryRanchi

विधायक प्रदीप यादव के सवाल पर बुरे फंसे मंत्री मिथिलेश ठाकुर, मामला ग्राउंड वाटर लेवल से संबंधित

Ranchi: झारखंड विधानसभा में प्रश्नकाल के समय राज्य में ग्राउंड वाटर लेवल से संबंधित विधायक प्रदीप यादव के सवाल पर मंत्री मिथिलेश ठाकुर बुरे फंसे। प्रदीप यादव ने कहा कि राज्य में किसी-किसी जिले में वाटर लेवल 50 प्रतिशत नीचे चला गया है। राजधानी रांची का हाल यह है कि यहां का वाटर लेवल 15 मीटर नीचे चला गया है। जवाब में पेयजल स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि राज्य में बहुत ज्यादा ग्राउंड वाटर में गिरावट नहीं आयी है। सरकार हर महीने इसकी जांच करती है। जो रिपोर्ट सरकार को प्राप्त हुई है उसके अनुसार झारखंड में केवल 2 मीटर पानी का स्तर नीचे गया है। कहा कि ग्राउंड वाटर लेवल को बचाने के लिए सरकार के स्तर से बहुत सारी योजनाएं चलाई जा रही है। कहा कि राज्य में कहीं भी पीने के पानी की दिक्कत नहीं है।

इसे भी पढ़े: मॉनसून सत्र : 1985 के बाद भूमिहिनों को जमीन देकर प्रधानमंत्री आवास का मिलेगा लाभ-आलमगीर

मंत्री के जबाब को कांग्रेस विधायक ने दी चुनौती

पेयजल स्वच्छता मंत्री के जवाब को चुनौती देते हुए विधायक प्रदीप यादव ने कहा कि राज्य में ग्राउंड वाटर लेवल गिरा है। मेरे पास भारत सरकार की रिपोर्ट है। झारखंड में वर्ष 2019 में भू जल संरक्षण के लिए नियम बनने का काम शुरू हुआ था। उन्होनें कहा कि पूरा विश्व पानी को लेकर चिंतित है। कहा यह जा रहा है कि तीसरा विश्व युद्ध पानी को लेकर होगा लेकिन मंत्री सदन में इस विषय पर सतही जवाब दे रहे हैं। साफ कहा कि सरकार इस मामले पर कोई कानून बनाएगी। कहा कि यह प्रश्न सरकार को सावधान करने के लिए है, मंत्री इसे अपनी प्रतिष्ठा से नहीं जोड़े।

ram janam hospital
Catalyst IAS

Related Articles

Back to top button