BusinessWorld

#Microsoft के संस्थापक #BillGates ने अमेजन के #Jeff Bezos को पछाड़ा, फिर बने दुनिया के नंबर वन अमीर  

विज्ञापन

Washington : माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स  दिग्गज ई कॉमर्स कंपनी अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस को पीछे छोड़ते हुए  दुनिया के सबसे अमीर शख्स बन गये हैं. 2018 में बेजोस बिल गेट्स को पीछे छोड़कर सबसे अमीर व्यक्ति बने थे. उससे पहले बिल गेट्स 24 साल तक दुनिया के सबसे अमीर शख्स रहे हैं.

साल 2017 के बाद से अमेजन के लाभ में यह पहली कमी है. 1987 में बिल गेट्स को पहली बार दुनिया के अमीर शख्स के तौर पर फोर्ब्स की लिस्ट में शामिल किया गया था. हालांकि बेजोस 1998 में अमेरिका के 400 सबसे अमीर की लिस्ट में शामिल किये गये थे.

इसे भी पढ़ें :  #INXMediaCase:  जेल में मनेगी #Chidambaram की दिवाली, सीबीआई ने SC में दाखिल की समीक्षा याचिका

advt

बेजोस की संपत्ति घटकर 103.9 अरब डॉलर हो गयी

जान लें कि  गुरुवार को अमेजन ने अपने तिमाही नतीजों की घोषणा की, जिसके बाद कंपनी के शेयरों में सात फीसदी की गिरावट आयी . जिसकी वजह से बेजोस की संपत्ति घटकर 103.9 अरब डॉलर हो गयी और पहले स्थान पर बिल गेट्स ने कब्जा कर लिया. बिल गेट्स की संपत्ति 105.7 अरब अमेरिकी डॉलर है.  अमेजन ने जुलाई-सितंबर तिमाही नतीजे घोषित कर दिये. पिछले साल के मुकाबले इस साल कंपनी के मुनाफे में 28 फीसदी की गिरावट आयी  है.  हालांकि अमेजन को 14,910 करोड़ रुपये यानी 2.1 अरब डॉलर का मुनाफा हुआ है.

कंपनी के शिपिंग खर्च में बढ़ोतरी हुई है

रअसल, ऑर्डर डिलीवरी में तेजी लाने के लिए अमेजन ने भारी निवेश किया है, जिसकी वजह से मुनाफे में कमी देखने को मिली. अमेजन ने अपने प्राइम मेंबर्स के लिए एक बड़ा एलान किया था. अमेजन ने प्राइम मेंबर्स के लिए दो दिन के बजाय सिर्फ एक ही दिन में डिलीवरी मिलने का एलान किया था. इससे पहले कंपनी ग्राहकों को दो दिन में डिलीवरी देती थी. इससे कंपनी के शिपिंग खर्च में बढ़ोतरी हुई है. इस संदर्भ में कंपनी के सीईओ जेफ बेजोस ने कहा है कि लंबी अवधि के लिए निवेश फायदेमंद होगा.

इसे भी पढ़ें : #J&K में 31 अक्टूबर से नये कानून होंगे लागू,  #Human Rights और #InformationCommission समेत सात आयोग खत्म

कंपनी का रेवेन्यू 24 फीसदी बढ़ा है

ग्राहक दो दिन के बजाय एक दिन में डिलीवरी की सुविधा को पसंद कर रहे हैं. डिलीवरी के इस एलान के बाद अमेजन का शिपिंग खर्च काफी बढ़ा है. सितंबर तिमाही में कंपनी का शिपिंग खर्च 46 फीसदी बढ़कर 68,160 करोड़ रुपये यानी 9.6 अरब डॉलर रहा. हालांकि एक दिन में डिलीवरी मिलने के एलान से कंपनी के बिक्री में इजाफा भी हुआ है. इससे कंपनी का रेवेन्यू 24 फीसदी बढ़ा है. सितंबर तिमाही में यह 4.97 लाख करोड़ रुपये यानी 70 अरब डॉलर रहा. जबकि पिछले साल सितंबर में यह 56.6 अरब डॉलर था.

adv

अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में कंपनी को 80 अरब से 86.5 अरब डॉलर के रेवेन्यू और 1.2 अरब डॉलर से 2.9 अरब डॉलर के मुनाफे की उम्मीद है. मुनाफे में प्रमुख हिस्सेदारी वाली वेब सर्विस (एडब्ल्यूएस) से कंपनी को 63,900 करोड़ रुपये यानी नौ अरब डॉलर का रेवेन्यू मिला है, जो पिछले साल की सितंबर तिमाही के मुकाबले 35 फीसदी ज्यादा है.

इसे भी पढ़ें : जानिये गीतिका शर्मा को, जिनकी आत्महत्या से तिहाड़ जेल पहुंच गये थे हरियाणा में भाजपा को समर्थन देनेवाले गोपाल कांडा

 

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button